Madhya Pradesh : ग्रीन, ऑरेंज, रेड, सभी जोन में खुलेंगी शराब दुकानें

आयुक्त आबकारी ने जारी किया आदेश, ये रहेगी टाइमिंग

सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मदिरा प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। सरकार ने पूरे प्रदेश में शराब (Liquor Shops) और भांग की दुकानें खोलने का निर्णय ले लिया है। केवल कंटेटमेंट (सील) इलाकों की शराब दुकानें ही बंद रहेंगी, बाकि पूरे मध्यप्रदेश में शराब दुकानें खुलेंगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय के शुक्रवार को जारी हुए आदेश में केंद्रशासित और राज्य सरकारों को निर्णय लेने की छूट दी गई थी। जिसका पूरा फायदा मध्यप्रदेश सरकार उठाती नजर आ रही है। शनिवार देर शाम आयुक्त आबकारी मध्यप्रदेश राजेश बहुगुणा का आदेश सामने आया, जिसे प्रदेश के राजस्व हित में बताया गया है। जिसके मुताबिक रेड, ऑरेंज और ग्रीन, सभी जोन में 4 मई से शराब और भांग की दुकानें खुलेंगी। आयुक्त आबकारी ने सभी कलेक्टर्स को एडवाइजरी जारी की है। वहीं सरकार के इस फैसले पर कांग्रेस ने सवाल उठाए है।

दुकान संचालकों को जारी होंगे पास

आयुक्त आबकारी का आदेश

शराब दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग, पर्सनल डिस्टेंसिंग समेत कोरोना वायरस से बचने के लिए जारी सभी शर्तों का पालन करना होगा। दुकान संचालकों और कर्मचारियों के लिए ई-पास की व्यवस्था भी सरकार ने की है। शराब दुकान का संचालक या कर्मचारी यदि दूसरे राज्य से भी मध्यप्रदेश में आना चाहेगा तो उसे पास उपलब्ध कराया जाएगा। आयुक्त ने जानकारी दी कि 16 जिलों में हुए टेंडर दूसरे राज्य के ठेकेदारों ने भी लिए है। लिहाजा वो प्रदेश में आना चाहें, तो उनके पास प्राथमिकता के तौर पर बनाए जाए।

ये रहेगी टाइमिंग

मध्यप्रदेश के नियमों के मुताबिक शराब दुकानों को सुबह 9.30 से रात 11.30 बजे तक खुलने की परमिशन है। लेकिन लॉकडाउन में समय में परिवर्तन किया गया है। केंद्र सरकार ने सभी व्यवसायिक गतिविधियों को रात्री 7 बजे से सुबह 7 बजे तक प्रतिबंधित रखा है। लिहाजा आबकारी आयुक्त ने कलेक्टर्स को सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक शराब दुकानों को खोले जाने पर विचार करने को कहा है। जिससे दुकानों पर भीड़ न हो और सोशल डिसटेंसिंग बनी रहे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: वन विभाग की टीम पर हमला

वेयरहाउस का संचालन होगा शुरु

आबकारी आयुक्त ने देशी और विदेशी शराब के सभी वेयरहाउस (महाभांडागारो) के भी संचालन की अनुमति देने के निर्देश दिए है, ताकि शराब दुकानों पर कोई कमी न हो। मध्यप्रदेश में सभी इलाकों में शराब दुकानें खोले जाने का आधार केंद्रीय गृह मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आदेश है, जिसकी शर्त के अनुसार रेड जोन घोषित जिले के सील जोन को छोड़कर बाकी इलाके में आवश्यक वस्तुओं की दुकानों के छूट को लेकर राज्य व केंद्रशासित सरकारें निर्णय ले सकती हैं।

कांग्रेस ने उठाए सवाल

वहीं शराब दुकानें खोलने के फैसले पर कांग्रेस ने तीखा हमला किया है। पूर्व मंत्री उमंग सिंघार ने कहा कि कोरोना की मुश्किल घड़ी में बीजेपी सरकार शराब की दुकानें चालू करा रही है। मुख्यमंत्री मज़दूरों के पेट की चिंता करने की बजाय सरकारी ख़ज़ाना भरने मे लगे है।वाह रे नर्मदा पुत्र शिवराज सिंह चौहान।

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!