Bhopal Cheating Case: सपने दिखाकर घर की जमा पूंजी ले गया जालसाज

Share

Bhopal Cheating Case: जांच के बाद तीन व्यक्तियों के खिलाफ गबन और जालसाजी का मुकदमा दर्ज

Bhopal Cheating Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। सपने दिखाकर एक जालसाज (Bhopal Cheating Case) दर्जनों लोगों को चूना लगा गया। जालसाज ने यह शुरुआत किसानों से की थी। फिर उनकी जमीन का सौदा करके प्लॉट बेचने का झांसा दिया। ग्राहकों से रकम बटोरकर जालसाज चंपत हो गया। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। मामले की जांच सीएसपी निशातपुरा संभाग ने की थी। जिनकी रिपोर्ट के आधार पर तीन व्यक्तियों के खिलाफ जालसाजी और गबन (Bhopal Land Scam) का मुकदमा दर्ज किया गया है।

तीन करोड़ का था सौदा

छोला मंदिर थाना क्षेत्र स्थित खेजड़ा बरामद में लगभग चार एकड़ जमीन (Bhopal Land Game) थी। इन जमीनों के वास्तविक मालिक गजराज सिंह (Gajraj Singh), टीकाराम, उमराव सिंह (Umrao Singh), रामकली बाई और काशीराम पाल (Kashiram Pal) थे। जमीन के सौदे का अनुबंध (Bhopal Land Agreement Fraud) लगभग 2 करोड़ 70 लाख रुपए में किया गया। सौदे के तहत किसानों को 10 लाख रुपए बयाना राशि दी गई। बाकी राशि बाद में भुगतान करने का दावा किया गया। इसी चार एकड़ में से डेढ़ एकड़ जमीन का सौदा सुरेश चंद्र यादव से किया गया। यह सौदा हेमराज चौकसे (Hemraj Chokse) और उसके पार्टनर भाई बलवीर सिंह ठाकुर (Balveer Singh Thakur) व वीर सिंह ठाकुर से किया गया।

तीन साल में दर्जनों शिकायतें

जालसाजी के मामले में आरोपी हेमराज चौकसे, बलवीर सिंह ठाकुर और वीर सिंह ठाकुर (Veer Singh Thakur) ने सुरेश चंद्र यादव से कई किस्त में 23 लाख रुपए की रकम ले ली। सुरेश चंद्र यादव (Suresh Chandra Yadav) ने इस फर्जीवाड़े की शिकायत जनवरी, 2018 में की थी। जिसके बाद सरिता ओझा (Sarita Ojha), अनिता श्रीवास्तव, रमेश सातपुते, नितिन मालवीय (Nitin Malviya) समेत कई अन्य ने भी की। आरोपियों से जमीन खरीदने का अनुबंध सुरेश चंद्र यादव ने सितंबर, 2015 में किया था। जमीन का सौदा (Bhopal Land Dispute Case) दो करोड़ रुपए में किया गया। बयाने के तौर पर पांच लाख रुपए दिए गए थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: महिला समेत दो व्यक्तियों ने लगाई फांसी

यह भी पढ़ें: राजधानी यह शातिर जिसके चपेट मेें डॉक्टर, कारोबारी से लेकर कई नेता भी आए

लोगों से रकम ऐंठ ली

आरोपियों हेमराज चौकसे, बलवीर सिंह और वीर सिंह ठाकुर ने कई लोगों को प्लॉट काटकर देने के नाम पर पैसे लिए थे। यह रकम लगभग 42 लाख रुपए थी। वह रकम लेने के अलावा सुरेश चंद्र यादव (Suresh Chandra Yadav) की रकम 23 लाख रुपए लेकर आरोपी फरार हो गए। आरोपियों ने किसानों की जमीन (Bhopal Khejda Baramad Land Dispute) का महज 10 लाख रुपए का भुगतान किया। बाकी रकम 55 लाख रुपए डकार गए। पुलिस ने प्रकरण दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरु कर दी है। बलवीर और वीर सिंह भाई है जो कि पंचवटी इलाके में रहते हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!