Bhopal Woman Harrasment Case: दूसरी शादी के लिए पहली पत्नी को घर से किया बेदखल

Share

पति समेत चार के खिलाफ जीरो पर केस दर्ज करके डायरी दूसरे थाने भेजी

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) दूसरी शादी के लिए पहली पत्नी को घर से बेदखल (Bhopal Woman Harrasment Case) कर दिया गया। मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) का है। पति—पत्नी का परिवार भोपाल (Bhopal Hindi Khabar) में ही रहता है। इसलिए महिला ने मायके वाले थाने में जाकर मुकदमा (Bhopal Crime Against Woman Case) दर्ज कराया। जहां से केस डायरी महिला के ससुराल वाले थाने भेज दी गई है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों की गिरफ्तारी सीधे नहीं की जा सकती है। इसलिए नोटिस देकर आरोपियों को थाने में तलब किया जाएगा।

ऐशबाग थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि उसको टीलाजमालपुरा थाने से केस डायरी प्राप्त हुई थी। शिकायत करने वाली महिला की उम्र 24 साल है। उसका आरोप है कि ससुराल जवाहर कॉलोनी में हैं। वह जुलाई, 2019 से मायके में रहने को मजबूर है। उसका मायका भोपाल में ही टीलाजमालपुरा थाना क्षेत्र में है। उसका पति रहीम बख्श (Rahim Bakhsh), सास शहजाज, बहनाई शाहिद (Shahid), ननद सईदा उसको प्रताड़ित करते है। पति रहीम बख्श का कहना है कि वह दूसरा निकाह करेगा। जबकि सास शहजाज (Shahjaj) कहती है वह दहेज में पैसा लेकर आए नहीं तो वह बेटे की दूसरी शादी करा देंगे। विरोध करने पर उसके साथ पति मारपीट (Bhopal Wife Beaten Case) के अलावा बहनोई शाहिद और ननद सईदा उसको फब्तियां कसते हैं। पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ धारा 498ए/323/34 (विवाहिता को प्रताड़ित करना, मारपीट और एक से अधिक आरोपी) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि इन धाराओं में सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन (Woman Harrasment SC Guide Line) के अनुसार सीधे गिरफ्तारी नहीं की जा सकती है। इसलिए नोटिस देकर आरोपियों को थाने में तलब किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:   Neemuch Jail Brake : जेल ब्रैक में चार नहीं चौदह लोग थे शामिल जिनमें दो जेल प्रहरी भी

अपील
क्या आप द क्राइम इंफो से जुड़ना चाहते हैं! अब द क्राइम इंफो एप्प की शक्ल में आपके साथ रहेगा। यह संदेश पढ़ने तक एक मैसेज आपके पास आएगा। आप उसको अलाउ करें, फिर आपके और हमारे बीच की दूरियां कम होगी। यह एप्प आपके मोबाइल पर दिखाई देने लगेगा। बस क्लिक कीजिए और अपने आस—पास चल रही खबरों को तुरंत जानिए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!