Bhopal News: खंडवा के दंपति रिश्तेदार के कमरे में मृत मिले, एक फांसी पर तो दूसरी फर्श पर पड़ी थी लाश

Share

Bhopal News: पति-पत्नी के बीच कोर्ट में चल रहा प्रकरण, आठ दिन पहले महिला आई थी बेटे को लेकर मायके, परिजनों की मौजूदगी में कराया जा रहा पोस्टमार्टम

Bhopal News
ग्राफिक डिजाईन टीसीआई

भोपाल। खंडवा से भोपाल आए एक पति—पत्नी की लाश एक कमरे में मिली है। यह मामला (Bhopal News) शाहपुरा थाना क्षेत्र का है। पति—पत्नी के बीच करीब एक साल से पारिवारिक विवाद चल रहा था। वहीं दोनों बच्चे मां के साथ रहते थे। महिला की लाश फर्श पर मिली जबकि पुरुष फांसी के फंदे पर झूला था। अभी यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि दोनों ने आत्महत्या की है या पति ने पत्नी की हत्या के बाद खुद फांसी पर झूला है। दरवाजा भीतर से बंद था। इस कारण किसी तीसरे व्यक्ति के भूमिका की संभावना नहीं जताई जा रही।

जीजा का है मकान

शाहपुरा पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। एएसआई करोड़पति मिश्रा (ASI Karodpati Mishra) ने बताया कि रंजीता चाकरे पति जितेंद्र चाकरे (35), जितेंद्र चाकरे(38) दोनों खंडवा के बामनिया गांव के रहने वाले थे। दोनों के दो बच्चे हैं। बेटी 13 साल की है, जबकि बेटा 9 साल का है। दोनों मजदूरी करते हैं। रंजीता के माता-पिता कुछ सालों से भोपाल में रहने लगे हैं। आठ दिन पहले रंजीता चाकरे अपने बेटे के साथ भोपाल आई थी। उसने फोन करके पति जितेंद्र चाकरे (Jitendra Chakre) को भोपाल बुलाया था। वह उसके साथ ससुराल जाने को तैयार थी। शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात दोनों कालूराम के किराये के मकान में सोने गए थे। जहां सुबह दोनों की लाश एक ही कमरे में मिली है। कालूराम भामोरे, जितेंद्र का जीजा भी है। उसने दो साल से किसी लक्ष्मण सिंह नाम के व्यक्ति को मकान किराये पर दे रखा है।

खंडवा कोर्ट में चल रहा प्रकरण

Bhopal News
भोपाल थाना शाहपुरा फाईल फोटो

रंजीता चाकरे (Ranjeeta Chakre)  माता-पिता ने बताया कि कोर्ट ने बच्चों की कस्टडी उनके बेटी को दी थी। हालांकि इस संबंध में रंजीता के भोपाल (Bhopal News) में रहने वाले माता-पिता ने कोई दस्तावेज पुलिस को पेश नहीं किए हैं। खंडवा कोर्ट में जितेंद्र ने करीब छह माह पहले धारा 9 के तहत परिवाद दायर किया था, जिसके तहत वह मायके में रह रही अपनी पत्नी को वापस अपने घर ले जाना चाह रहा था। शाहपुरा पुलिस मर्ग 12—13/22 दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। घटना ईश्वर नगर इलाके में हुई है। जिसकी सूचना पुलिस को 8 मई की रात लगभग 12 बजे विकास भामोरे (Vikas Bhamore) ने पुलिस को दी थी। जनहित में संदेश: आत्महत्या के विचार आना मानसिक अवसाद की निशानी है। यदि समस्या है तो 18005990019 पर संपर्क करें। इसमें चिकित्सक निशुल्क निदान के लिए उपलब्ध रहते हैं।  

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cop News: कर्फ्यू में बाहर निकलने की वजह पूछ ली, कांस्टेबल से झूम गया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!