Indore Honey Trap: जेल की तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल

Share

Indore Honey Trap: डीआईजी जेल ने कहा मैं तो कोरोना की तैयारियों के लिए इंदौर जा रहा

Indore Honey Trap
इंदौर जेल के भीतर हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार एक आरोपी से चर्चा करते हुए जेलर जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हुई

भोपाल। मध्य प्रदेश का बहुचर्चित हनी ट्रेप (Indore Honey Trap) केस। यह केस तत्कालीन कमल नाथ सरकार (Kamal Nath) में सार्वजनिक हुआ था। जिसमें भाजपा के पूर्व मंत्री का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। इतना ही नहीं कई ब्यूरोक्रेट के नाम और नंबर भी सार्वजनिक हुए थे। जिन्होंने यह किया था जीतू सोनी उसके खिलाफ दर्जनों मुकदमे दर्ज करके संपत्ति ढ़हा दी गई थी। अब यह मामला फिर सुर्खियों में है। अब सुर्खियों की वजह जेल के भीतर (Indore Jail News) से वायरल हुई तस्वीरें हैं। खबर है कि जेल मुख्यालय से इस मामले को लेकर डीआईजी को इंदौर की जेल में जांच के लिए भेजा जा रहा है।

अकेले में हो रही थी मुलाकात, इसलिए मायने निकले

जानकारी के अनुसार जेल के भीतर की अलग—अलग एंगल से लगी गई आधा दर्जन से अधिक तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हुई। इस तस्वीर में दिखाई दे रहे जेलर केके कुलश्रेष्ठ (KK Kulshreshth) थे। वह हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार एक मुख्य आरोपियों में से एक से बातचीत कर रहे थे। यह बातचीत जहां से होती है वहां वीडियो कांफ्रेंस के जरिए पेशी होती है। प्लास्टिक कुर्सी में बैठे जेलर की इन तस्वीरों के काफी मायने निकाले जाने लगे। दरअसल, यह बातचीत बेहद एकांत में हो रही थी। उनके आस—पास कोई नहीं था। इससे पहले यहां रही महिला जेल अधिकारी अदिति चतुर्वेदी (Aditi Chaturvedi) भी इन्हीं हनी ट्रैप बालाओं की वजह से सुर्खियों में आई थी।

यह भी पढ़ें:   Attempt To Murder Case: चोर की खबर पुलिस की बजाय युवक को लगी

जेल मुख्यालय से डीआईजी को भेजा गया

MP Honey Trap Case
गिरफ्तार ब्लेकमेलर श्वेता जैन जिसकी तस्वीरें बताती हैं कि वह किस अंदाज में रहती थी-FILE Photo

यह वायरल तस्वीरें भोपाल स्थित जेल मुख्यालय (Madhya Pradesh Prosoner Headquarter) भी पहुंच गई थी। जिसके बाद डीआईजी जेल संजय पांडे को इंदौर भेजे जाने का फैसला लिया गया। हालांकि संजय पांडे (DIG Jail Sanjay Pandey) ने वायरल तस्वीरों की जांच की बात से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा मुझे वहां कोविड प्रोटोकॉल की जांच के लिए भेजा जा रहा है। दरअसल, कुछ जेलों में बंदियों के कोरोना संक्रमित अधिक होने के समाचार मिले थे। इंदौर (Indore Prisoner News) जेल में भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ गई है। मैं वहां केवल कोविड प्रोटोकॉल और उसकी बनाई गई गाइड लाइन की जांच के लिए जा रहा हूं।

 

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!