Bhopal Loot Attempt: मालदार दोस्त को लूटने की सुपारी 

Share

Bhopal Loot Attempt: इस राज के कारण पुलिस के सामने बेनकाब हो गया दोस्त

Bhopal Loot Attempt
सांकेतिक चित्र

भोपाल। दोस्ती के कई किस्से हम आपस में साझा करते हैं। इन पर केंद्रीत कई फिल्में भी बनी है। अधिकांश कहानी—किस्से पॉजिटिव ही मिले हैं। लेकिन, एक नैगेटिव दोस्ती का किस्सा सामने आया है। मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Loot Attempt) का है। इसमें पुलिस ने लूट के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया है। जिसमें आरोपी ने अपने दोस्त को लूटने की सुपारी दे दी थी।

ओएलएक्स पर बाइक खरीदी

घटना पिपलानी थाना क्षेत्र के जेके रोड इलाके की है। जिसकी शिकायत दिनेश कलावत पिता पप्पू सिंह उम्र 25 साल ने दर्ज कराई। दिनेश कलावत मूलत: रायसेन का रहने वाला है। दिनेश ने पिछले दिनों ओएलएक्स के जरिए बाइक खरीदी थी। इस काम में उसकी मदद दोस्त प्रवीण जाट ने की थी। प्रवीण जाट भी रायसेन (Raisen) का रहने वाला है। लेकिन, फिलहाल दुर्गेश विहार कॉलोनी में रहता है। दिनेश कलावत (Dinesh Kalavat) ने दोस्त से कहा कि सेकंड हैंड स्कॉर्पियों वह खरीदना चाहता  है। इस काम में भी उससे मदद मांगी गई।

ऐसे उजागर हुआ राज

Bhopal Loot Attempt
सांकेतिक चित्र

प्रवीण जाट (Pravin Jat) ने भरोसा दिलाते हुए स्कॉर्पियो खरीदने के लिए हमीदिया रोड के पास दिनेश कलावत को घटना वाली तारीख को बुलाया। प्रवीण जाट इससे पहले टोकन मनी दिला चुका था। बाकी की रकम दो लाख 65 हजार रुपए लेकर बुलाया था। इस रकम को लेकर प्रवीण जाट कभी इधर तो कभी उधर आने का बोलता रहा। आखिरकार जेके रोड तिराहे पर दो लोग दिनेश कलावत से नकदी से भरा बैग झपटने लगे। उस वक्त कुछ समय के लिए दोस्त प्रवीण जाट गायब हो गया था। यहां से मामला उजागर हुआ और पुलिस उसे सुलझाने में कामयाब रही।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft Case: आईबी सब इंस्पेक्टर के घर से लाखों का माल चोरी

दो नाम पर रहस्य बरकरार

लूटपाट से पहले आरोपी कई जगह पर उसको घुमाते रहे। इसी घुमने की वजह से पुलिस को शक गहराया। यहां से सिलसिलेवार जुड़ते गए तार की वजह से पुलिस को लूट की कहानी के दूसरे किरदारों का पता चल सका। पुलिस ने प्रवीण जाट के खिलाफ धारा 393/34 (लूट की कोशिश और एक से अधिक आरोपी) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस मामले में लूट की कोशिश करने वाले दो आरोपी फिलहाल फरार है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!