Madhya Pradesh Crime: भारी चौकसी में भी घूम रहा था नकली पुलिस वाला, दिल्ली की महिला रंगकर्मी को छेड़ा

Share

एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त में दूसरा फरार

Madhaya Pradesh Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) शहर अयोध्या फैसले (Ayodhya Verdict) को देखते हुए पुलिस छावनी (Police Cantonment) में तब्दील थी। ​इसके बावजूद शहर में नकली पुलिस (Fake Police) वाले दो युवक घूम रहे थे। उन्होंनें शुक्रवार रात 10:15 बजे महिला रंगकर्मी (Theater Artiest) को छेड़ा। आरोपियों ने शहर ​में धारा 144 का हवाला देकर ​महिला के साथ अश्लील हरकत (Pornographic Act) की। ​इससे पहले आरोपियों ने खुद को पुलिस वाला बताया था।
जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला भोपाल के डिपो चौराहे (Dipo Square) के पास बीती रात दो बदमाशों ने नकली पुलिस (Mimic Police) बनकर ​महिला रंगकर्मी और उनके साथियों को रोका था। महिला रंगकर्मी (Theater Artieste) नई दिल्ली (New Delhi) की रहने वाली है। वह गुरूवार रात 10:15 बजे अपने साथियों के साथ पैदल हॉस्टल जा रही थी। तभी डिपो चौराहे के पास दो बदमाशों ने उसको रोक लिया। दोनों आरोपी कार पर सवार थे। उन्होंने खुद को पुलिस वाला बताकर पीड़ित महिला से बातचीत शुरू की। इसके बाद वे धारा 144 को लेकर उसे धमकाने लगे। महिला रंगकर्मी को आरोपियों ने अपनी ​कार में बैठा लिया। जिसके बाद दोनों ने ​महिला के साथ अश्लील हरकत (Crime Against Woman) करना शुरू कर दिया। महिला रंगकर्मी ने इसका विरोध किया तो साथी भी नकली पुलिस वालों का विरोध करने लगे।

महिला रंगकर्मी के साथियों के साथ झूमाझटकी आरोपियों ने शुरू कर दी। इसी दौरान एक साथी ने 100 डॉयल कर पुलिस को मौके पर बुला लिया। पुलिस गाड़ी की आवाज सुनकर दोनों आरोपी भागने में कामयाब हो गए। महिला रंगकर्मी ​की शिकायत पर पुलिस ने दोनों मनचलों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। सीसीटीवी फुटेज में कैद गाड़ी नंबर के आधार पर पुलिस ने एक युवक की पहचान ​की। आरोपी की पहचान थाना पिपलानी के आनंद नगर निवासी 42 वर्षीय शरद (Sharad) नाम से हुई है। शरद ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि घटना के वक्त उसका दूसरा साथी शिवांग (Shivang) था। पुलिस शिवांग के पते पर पहुंची पर वह गायब था। पुलिस का कहना है कि वह शिवांग को भी जल्द तलाश कर गिरफ्तार कर लेगी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime : पैरोल पर छूटा बंदी हमेशा के लिए होना चाहता था आजाद, अब डबल मर्डर की काटेगा सजा
Don`t copy text!