Bhopal Anti Mafia: तीन मंजिला अतिक्रमण जमींदोज

Share

Bhopal Anti Mafia: बम की मदद से ढ़हाई गई बिल्डिंग, जिम्मेदारों के खिलाफ सरकार मौन

Bhopal Anti Mafia
उपर तस्वीर में ब्लास्ट से पहले नीचे जमींदोज होने के बाद का चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में जारी एंटी माफिया (Bhopal Anti Mafia) मुहिम के तहत तीन मंजिला अतिक्रमण करके बनाई गई बिल्डिंग को बम की मदद से जमींदोज किया गया। इसमें पुलिस, प्रशासन के अलावा निगम का भी अमला शामिल था। हालांकि इस अवैध निर्माण के लिए जिम्मेदार अफसरों के खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई की जानकारी नहीं दी गई है। इस संबंध में कई पीड़ित प्रशासन के पास चक्कर काट रहे थे।

खर्च पर चुप्पी साधी

पिपलानी स्थित जन सहयोग कॉलोनी (Jan Sahyog Society News) जो गोपाल नगर के नजदीक है वहां अति​क्रमण गिराया गया। यहां भू-माफिया रावतानी ने पाँच हजार वर्गफिट पर तीन मंजिला काम्पलेक्स तान दिया था। जिसको जमींदोज के लिए डिटोनेटर का इस्तेमाल किया गया। यह कार्रवाई शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे की गई थी। जमीन सर्वोदय सोसायटी के नाम पर थी। इसके 170 सदस्य थे। समिति ने टीएंडसीपी से नक्शे की मंजूरी नहीं ली थी। यह सोसायटी 2002 में जनसहयोग ने खरीदी थी। जनसहयोग के अध्यक्ष हरीश शर्मा (Harish Sharma) थे। समिति में एक ही प्लॉट दो—दो लोगों को बेचा गया था। जिसको लेकर शिकायत लंबे अरसे से की जा रही थी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cop Transfer: क्राइम ब्रांच को फोकस करने तबादले
Don`t copy text!