Bhopal News: शिफा अस्पताल के संचालक पर ओटी में बंद करके पीटने का आरोप

Share

Bhopal News: अस्पताल की एम्बुलेंस चलाने वाले मुस्लिम ड्रायवर की दाढ़ी भी बॉडी गार्ड की मदद से काटी

Bhopal News
फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal News)  हनुमानगंज इलाके से मिल रही है। यहां शिफा अस्पताल के संचालक और उनके बॉडी गार्ड पर अगवा करने, बंधक बनाकर पीटने का आरोप लगा है। यह आरोपी उसी अस्पताल के एम्बुलेंस ड्रायवर ने लगाया है। हालांकि अभी वह अस्पताल में दूसरा काम कर रहा है। घटना दो दिन पहले की है। पीड़ित मुस्लिम परिवार से भी है। उसका आरोप है कि अस्पताल के मालिक ने उसकी दाढ़ी ओटी में ले जाकर काट दी। दर्ज कराई गई एफआईआर में कई ऐसी बातें हैं जो सामने नहीं है। इसलिए पुलिस नए सिरे से मामले की विवेचना कर रही है।

कार से अगवा किया

हनुमानगंज थाना पुलिस के अनुसार यह मुकदमा 02 जून को दर्ज किया गया है। शिकायत मोहम्मद अतीक पिता मोहम्मद खलील उम्र 47 साल ने दर्ज कराई है। वह इमामी गेट के नजदीक नूर महल रोड पर रहता है। पुलिस ने धारा 452/294/323/506/342/34/3/4 (घर में घुसकर, गाली—गलौज, मारपीट, धमकाना, बंधक बनाना, एक से अधिक आरोपी और मप्र चिकित्सा सेवा कर्मचारी सुरक्षा कानून 2008) के तहत केस दर्ज किया है। इस मामले में आरोपी मोहसिन खान, मुदस्सिर खान और शहरोज (Shahroj) हैं। मोहसिन खान का शिफा अस्पताल है। जहां मोहम्मद अतीक (Mohmmed Atik) जनवरी, 2021 से एम्बुलेंस ड्रायवर था। उसका आरोप है कि अस्पताल संचालक और उनके बॉडी गार्ड शहरोज एवं मुदस्सिर खान (Mudssir Khan) की मदद लेकर उसको कार से अगवा किया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: नाबालिग पर गर्म चाय फेंकी

यह भी पढ़िए: आम जनता से उठक—बैठक लगाने वाली पुलिस जेके अस्पताल के रसूख के आगे कैसे बौनी होती चली गई

ओटी में ले जाकर यह किया

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

मोहम्मद अतीक ने बताया कि वह पहले एम्बुलेंस चलाता था। अब वह ज्यादा चल नहीं रही है। इसलिए अस्पताल में मरीजों की देखरेख की जिम्मेदारी उसे दी गई थी। वह मंसूर खान (Mansoor Khan) की देखरेख रात की शिफ्ट में करता था। घटना वाली रात तीनों आरोपियों ने अस्पताल में ही बुरी तरह से पीटा। जान बचाकर वह बाइक से घर भागा। लेकिन, पीछे से कार लेकर आए आरोपियों ने उसको घर से अगवा कर लिया। फिर अस्पताल के ओटी में ले जाकर उसको पहले पीटा गया। फिर उसकी ट्रिमर मशीन से दाढ़ी काट दी गई। वह सुबह 6 बजे तक अस्पताल में बंधक रहा। वह थाने में भांजे शफीक और दामाद मोहम्मद उमर के साथ पहुंचा था। पुलिस का कहना है कि मामले में कुछ बातें छुपाई जा रही है। जिसका पता लगाया जा रहा है। अभी दूसरे पक्ष से पूछताछ नहीं हो सकी है।

Don`t copy text!