Bhopal Dowry Case: सीआईडी का हवलदार नहीं होने देता था एफआईआर

Share

Bhopal Dowry Case: पुलिस को तब आया तरस जब महिला का सिर फूटा, जानिए रसूख का राज

Bhopal Dowry Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। देश में महिला संबंधित अपराधों के समाधान को ज्यादा महत्व दिया जाता हैं। थाने में एफआईआर दर्ज होने से लेकर आरोपी के पकड़े जाने तक। लेकिन, यह दावे कितने सच है कि यह उनके पुलिस महकमे की पीड़िता ने उजागर की है। मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Dowry Case) से सामने आया है। पीड़िता सीआईडी में तैनात हवलदार की पत्नी है। हवलदार पीड़िता की एफआईआर थाने में दर्ज नहीं होने देता था। इसमें थाना पुलिस भी मदद करती थी। हालांकि थाने का दिल तब पसीजा जब पीड़िता का सिर फूट गया।

सहमति से हुई थी शादी

महिला थाना पुलिस ने बताया कि 30 वर्षीय महिला ने रविवार रात लगभग साढे नौ बजे पति संदीप सेन (Sandip Sen) के खिलाफ प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज कराया हैं। पुलिस ने आरोपी संदीप सेन के खिलाफ धारा 498ए/323 (प्रताड़ना और मारपीट) का मामला दर्ज किया हैं। पीड़िता ने द क्राइम इंफो से बातचीत में बताया कि वह मूलत: सागर (Sagar) जिला की रहने वाली हैं। परिजनों ने उसकी शादी सूबेदार कॉलोनी इंद्र नगर थाना टीलाजमालपुरा निवासी संदीप सेन से 2011 में कराई थी। संदीप सेन पुलिस मुख्यालय में स्थित सीआईडी शाखा (MP CID Branch) में हवलदार है। दोनों की सात साल की बच्ची भी है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली पुलिस का वह व्यक्ति जो एसीपी बताते हुए लोगों से इस काम के लिए वसूलता था रकम

एडीजी से की थी शिकायत

पीड़िता ने बताया शादी के कुछ समय सबकुछ ठीक था। लेकिन, अचानक संदीप ने शराब पीना शुरू कर दिया। शराब पीकर छोटी—छोटी बातों पर मारपीट करता था। विरोध करने पर कम दहेज लाने के तंज वह कसता था। शराब पीने के चक्कर में लोगों से उसने कर्जा ले रखा हैं। कर्ज वाले आए दिन घर के चक्कर काटते हैं। प्रताड़ित करने पर कई बार टीलाजमालपुरा थाना में पीड़िता ने शिकायत दर्ज कराई थी। लेकिन, हर बार संदीप थाने में फोन करके एफआईआर दर्ज करने से मना करवा देता था। इसकी शिकायत सीआईडी शाखा एडीजी कैलाश मकवाना (ADG Kailash Makvana) से भी शिकायत की थी। लेकिन, तब भी उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: किसान पर अमले में बाधा पहुंचाने का आरोप

पीछे से किया वार

पीड़िता ने बताया रविवार शाम संदीप सेन शराब के नशे में घर आया था। घर आते ही संदीप शराब पीने के लिए पत्नी से पैसे मांगने लगा। पत्नी ने इंकार कर दिया। तभी उसने भारी चीज उठाकर सिर पर मार दिया। खून से लथपथ वह फर्श पर गिर पड़ी और बेहोश हो गई। आरोपी संदीप पीड़िता को उसी हालत में दरवाजा बंद करके भाग गया। होश आने के बाद पीड़िता ने परिजनों को फोन किया और मदद मांगी। खून से लथपथ पीड़िता परिजनों के साथ थाने पहुंची। उसकी हालत देखने के बाद पुलिस ने तरस खाकर मुकदमा दर्ज कर लिया।

यह भी पढ़ें: पहले कमल नाथ ने अब शिवराज सिंह चौहान ने यह बोलकर टाल दिए चुनाव, भीतर की खबर यहां जान लीजिए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!