Bhopal Cyber Fraud: युवती की सहेली के पिता की बीमारी के नाम पर सायबर फ्रॉड

Share

Bhopal Cyber Fraud: आप यदि यारबाज है तो यह समाचार पढ़ लीजिए, दोस्ती के चक्कर में आकर खाते में जमा करा लिए थे 50 हजार रूपए, अब चक्कर काट रही युवती

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। यह समाचार आपकी सतर्कता के लिए जानना बेहद जरूरी है। खासतौर पर यदि आप मददगार है या फिर यूं कहे कि यारबाज है। ऐसी ही दरियादिली एक युवती को दिखाना काफी महंगी पड़ गई। यह घटना भोपाल (Bhopal Cyber Fraud) शहर के बागसेवनिया इलाके की है। इस मामले की शुरूआती जांच सायबर क्राइम ने की थी। जिसके बाद केस डायरी अब थाने भेजी गई है। पीड़िता को अपनी दिलेरी की कीमत 50 हजार रूपए गंवाकर चुकानी पड़ी। दरअसल, उसने जिस व्यक्ति की मदद की वह उसकी सहेली का रिश्तेदार ही नहीं था।

ऐसे थाने पहुंचा मामला

बागसेवनिया थाना पुलिस के अनुसार 17 अक्टूबर की रात लगभग पौने ग्यारह बजे 720/22 धारा 420 जालसाजी का मामला दर्ज किया गया है। जिसकी शिकायत महर्षि चौहान पिता शेर सिंह चौहान उम्र 28 साल ने दर्ज कराई है। वे बागसेवनिया स्थित बरकतुल्ला यूनिवर्सिटी के पास रहते हैं। आरोपी ने महर्षि चौहान (Maharshi Chauhan) से उसका परिचित बनकर संपर्क किया था। आरोपी ने फोन पर उससे बातचीत करते हुए यह यकीन दिलाया कि वह उनका परिचित है। आरोपी ने उन्हें अपना नाम अनिल बताया था। अनिल ने महर्षि चौहान की सहेली के पिता के इलाज में पैसों की जरूरत का हवाला देकर मदद मांगी थी। इसके बाद आरोपी ने उन्हें बैंक डीटेल भेज दिया। महर्षि चौहान ने लगभग 50 हजार रूपए उन्हें बैंक टू बैंक ट्रांसफर कर दिए। कुछ समय बाद आरोपी ने फिर अनिल से लगभग 50 हजार रूपए की मदद मांगी। उसने मदद करने से इंकार करते हुए पुराने पैसे लौटाने से इंकार कर दिया। महर्षि चौहान ने साइबर क्राइम पहुंचकर मामले की शिकायत की थी। उसके मामले की 22 दिन तक जांच चली।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Usury Against Campaign:  पुलिस ने दी सलाह सूदखोरों से पैसा लेने के पहले एग्रीमेंट करें
Don`t copy text!