Bhopal Extramarital Affair: दो पत्नी के सीक्रेट को तीसरी पत्नी ने ऐसे किया पता

Share

Bhopal Extramarital Affair: पति ने बेटी के जन्म के बाद महिला को पत्नी का दर्जा देने से भी मुकरा

Bhopal Extramarital Affair
सांकेतिक चित्र—साभार

भोपाल। विवाहेत्तर संबंधों (Bhopal Extramarital Affair) से जुड़ा एक मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सामने आया है। इसमें आरोपी ने एक—दो नहीं बल्कि तीन शादियां की थी। तीनों पत्नी एक—दूसरे से बेखबर थी। लेकिन, तीसरी पत्नी ने एक ऐसा तरीका अपनाया कि तीनों महिलाओं को उसके पति की करतूत पता चल गई। इस बात से गुस्साए आरोपी ने तीसरी महिला के बच्चे और उसको अपनाने से मुकर गया। नतीजतन, महिला को पुलिस से मदद मांगनी पड़ी। पुलिस ने पति के खिलाफ सामान्य दहेज प्रताड़ना का यह मुकदमा बना दिया है।

दो राज्यों में तीन पत्नी

कोहेफिजा थाना पुलिस ने बताया कि 12 जनवरी की दोपहर लगभग तीन बजे धारा 498ए (प्रताड़ना) का मुकदमा दर्ज किया है। इस मामले में आरोपी मोहम्मद सरफराज (Mohmmed Sarfaraz) है। उसने अक्टूबर, 2020 में पीड़िता को छोड़ दिया था। वह पत्नी के विरोध जताने पर नाराज चल रहा था। पत्नी का कहना था कि उसने अपनी दो पत्नी के राज छुपाकर उससे शादी की थी। यह बात उसको तब पता चली जब वह डिलीवरी के वक्त पत्नी और बेटी की देखरेख करना छोड़कर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) चला गया। वहां रायपुर (Raipur) शहर में वह मजदूरी करता था। यहां आने—जाने की वजह पता की गई तो मालूम हुआ कि वहां उसकी पत्नी पहले से ही है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: प्यारे मियां के खिलाफ बयान देने वाली नाबालिग की हालत नाजुक

धारा के सवाल पर चुप्पी

आरोपी मोहम्मद सरफराज के रिश्तेदारों की मदद से पीड़िता का रिश्ता तय हुआ था। इस मामले की जांच अधिकारी एसआई रिचा त्रिपाठी (SI Richa Tripathi) कर रहीं हैं। मामले में तीन पत्नी की बात सामने आई। जिसमें कानून विशेषज्ञों का कहना है कि प्रकरण धारा 496 का था। इस मामले में कोहेफिजा थाना प्रभारी अनिल बाजपेयी (TI Anil Bajpai) का कहना था कि यदि पीड़िता अपने बयान अदालत में देगी तो यह धारा वहां बदल सकती है। मामला प्रताड़ना का था इसलिए यह धारा लगाई गई। जबकि एफआईआर में दो पत्नी की बात सामने आई है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!