Bhopal Property Fraud: आईबी अफसर के माता—पिता के साथ धोखाधड़ी

Share

Bhopal Property Fraud: अवधपुरी के कॉलोनाइजर के खिलाफ जालसाजी का केस, एक ही प्लॉट कई लोगों को बेचा

Bhopal Property Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। गुप्तचर विभाग में तैनात एक महिला अफसर के माता—पिता के साथ धोखाधड़ी (Bhopal Property Fraud) हुई है। यह जालसाजी कॉलोनाइजर ने की है जो पहले से दूसरे मामलों में जेल में बंद है। एफआईआर भोपाल के पिपलानी थाने में दर्ज की गई है। इस मामले की शिकायत सीएसपी गोविंदपुरा संभाग राकेश श्रीवास्तव (CSP Rakesh Shrivastava) के पास हुई थी। जहां से जांच के आदेश दिए गए थे।

इतने में हुआ था सौदा

पिपलानी थाना पुलिस के अनुसार 08 नवंबर की शाम लगभग छह बजे 1136/21 धारा 420 (जालसाजी) के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। शिकायत उत्तराखंड के चंपावत जिला स्थित एसएसबी कैंपस निवासी अंजना मिश्रा पत्नी स्वर्गीय हरीशंकर मिश्रा उम्र 62 साल ने दर्ज कराई है। हरीशंकर मिश्रा (Harishankar Mishra) भेल में जॉब करते थे। उस वक्त अक्टूबर, 2010 में उन्होंने तीन प्लॉट खरीदे थे। यह प्लॉट बरखेड़ा पठानी स्थित पिरामिड टाउन में थे। जिसका कॉलोनाईजर छत्रपति नगर निवासी डीके सिंह पिता पीएन तिवारी है। कॉलोनाईजर का दफ्तर गांधी मार्केट में था। प्लॉट का सौदा उस वक्त 12 लाख रुपए में हुआ था। प्लॉट की रजिस्ट्री भी कराई गई थी। लेकिन, कब्जा नहीं लिया गया था। हरीशंकर मिश्रा का निधन हो गया है। जिसके बाद पत्नी अंजना मिश्रा 27 अक्टूबर, 2021 को प्लॉट देखने आई थी। वहां उन्हें छोटू तिवारी (Chhotu Tiwari) नाम लिखा हुआ बोर्ड मिला। उसमें नंबर भी लिखा था।

पुलिस जो कह रही है वह लिख दो

Bhopal Property Fraud
थाना पिपलानी, जिला भोपाल— फाइल फोटो

इस मामले की जांच एसआई केपी सिंह (SI KP Singh) ने की है। उन्होंने बताया कि अंजना मिश्रा (Anjana Mishra) ने उस नंबर पर कॉल किया। उन्हें बताया गया कि वह डीके सिंह से खरीदा गया है। यह बात पीड़िता ने पिपलानी थाना पुलिस को अपनी एफआईआर में बताई है। इस मामले में छोटू तिवारी से संपर्क किया गया तो उनके परिजनों ने फोन उठाया। उन्होंने बताया कि प्लॉट छोटू तिवारी ने नहीं खरीदा। वहां केवल बोर्ड लगाकर उसका नाम लिखा था। जब खरीददार के संबंध में पूछा तो उन्होंने बताया जो पुलिस बता रही है वह सही है। उल्लेखनीय है कि डीके सिंह (DK Singh) ने ऐसे ही कई अन्य प्लॉट फर्जी तरीके से बेचे है। फिलहाल वह उन्हीं मामलों में जेल में बंद है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: शादी के सात महीने बाद पत्नी को भगाया

यह भी पढ़ें: भोपाल के इस बिल्डर पर सिस्टम का ‘रियायती सैल्यूट’, परेशान हो रहे 100 से अधिक परिवार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Property Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!