सिंधिया का दो तरफा विरोध, सड़क पर कांग्रेस, घर में ‘भाजपाई’

Share

ग्वालियर में कांग्रेस का बड़ा प्रदर्शन, सिंधिया को काले झंड़े दिखाने की कोशिश

Scindia in Gwalior
सिंधिया का विरोध करते कांग्रेस कार्यकर्ता

ग्वालियर। भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को दो तरफा विरोध झेलना पड़ रहा है। कांग्रेस खुलकर सड़क पर विरोध कर रही है। तो भाजपा में अंदरूनी विरोध बढ़ता ही जा रहा है। ग्वालियर में भाजपा का तीन दिवसीय सदस्यता अभियान शुरु हो गया है। भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि इस कार्यक्रम में 10 हजार लोग पार्टी का दामन थामेंगे। उपचुनाव से पहले होने इस कार्यक्रम के लिए भाजपा के टॉप लीडर्स ग्वालियर पहुंच गए हैं।

सिंधिया का बाहरी विरोध

शनिवार को राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एक साथ दिल्ली से ग्वालियर पहुंचे। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा अध्यक्ष बीडी शर्मा भोपाल से ग्वालियर पहुंचे। बिकाऊ नहीं टिकाऊ चाहिए का नारा देने वाली कांग्रेस ने सिंधिया का जमकर विरोध किया। बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे और सिंधिया को काले झंड़े दिखाने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस ने कुछ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी किया है।

देखें वीडियो

सिंधिया का अंदरूनी विरोध

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए सिंधिया को ग्वालियर चंबल के भाजपा कार्यकर्ता स्वीकार नहीं कर पा रहे है। कल तक सिंधिया की खिलाफत करने वाले भाजपाई, उन्हें महाराज मानने को तैयार नहीं है। अब ग्वालियर में होने जा रहे सदस्यता कार्यक्रम को लेकर भी भाजपा कार्यकर्ता नाखुश नजर आ रहे है। जानकारों का कहना है कि इस कार्यक्रम में संगठन भी केवल सिंधिया को ही तवज्जों दे रहा है। लिहाजा पुराने भाजपा नेता नाराज है।

यह भी पढ़ें:   भाजपा के खाते में 2 राज्यसभा सीट, कांग्रेस से दिग्विजय सिंह

सीएम शिवराज का विरोध

शनिवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी ग्वालियर पहुंचे। इस दौरान अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलनकारियों ने मुख्यमंत्री से मिलने की कोशिश की। सिर मुंडवाकर बाल भेंट करने की कोशिश की। इन घटनाक्रमों से साफ नजर आ रहा है कि ग्वालियर-चंबल में भाजपा की राह आसान नहीं है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को घर से उठाया

थाटीपुर थाने में बैठे कांग्रेस नेता

सिंधिया के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को रोकने की तमाम कोशिशें की गई थी। शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात और शनिवार सुबह पुलिस ने कई कांग्रेस नेताओं को घर से उठा लिया। कुछ कांग्रेस नेताओं को तो पुलिस बनियान पर ही उठाकर थाने ले गई। थाठीपुर और यूनिवर्सिटी समेत कई थानों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बैठाकर रखा गया। इसके बावजूद सिंधिया के विरोध में होने जा रहे प्रदर्शन को रोका नहीं जा सका।

यह भी पढ़ेंः तीन तलाक पर सीएम शिवराज नाराज, डीजीपी से की बात

खबर के लिए ऐसे जुड़े

कांग्रेस नेता डॉ. कमलेश इंदौरिया को बनियान में ही उठा लाई पुलिस

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!