Bhopal Road Accident में हुई मौत से खुला लव अफैयर का सीक्रेट

Share

Bhopal Road Accident: एक महीने पहले हुई दुर्घटना में लावारिस मिली थी पुलिस को कार

Bhopal Road Accident
सांकेतिक चित्र

भोपाल। रोड़ एक्सीडेंट (Bhopal Road Accident) में हुई एक मौत के बाद अफेयर का एक सीक्रेट उजागर हो गया। घटना एक महीने पुरानी हैं। मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Road Mishap) का है। यहां इलाज के दौरान एक युवक ने अस्पताल में दम तोड़ने के बाद यह कहानी सामने आई। पुलिस को कार लावारिस हालत में मिली थी।

बाइक पर दोस्त के साथ जा रहा था

सुखी सेवनिया थाना पुलिस ने बताया कि अंकित साहू (Ankit Sahu) पिता राधेश्याम उम्र 26 साल की दुर्घटना में मौत हुई हैं। जांच अधिकारी एसआई अमर सिंह (SI Amar Singh) ने बताया अंकित अप्सरा टाकीज के पास इलाके का रहने वाला था। वह प्रायवेट काम करता था। वह 1 दिसंबर को बाइक से अंकित दोस्त सौरभ के साथ विदिशा (Vidisha) से भोपाल आ रहा था। शाम करीब साढ़े पांच बजे चौपड़ा कला विदिशा रोड़ पर एक कार वाले ने बाइक में टक्कर मार दी थी। बाइक को सौरभ चला रहा था। जबकि अंकित पीछे बैठा हुआ था। टक्कर के बाद सौरभ को मामूली खरोंच आई थी लेकिन, अंकित के सिर में गंभीर चोट थी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

कार चालक हुआ फरार

जांच अधिकारी ने बताया अंकित को तुरंत विधाता अस्पताल (Vidhata Hospital) में भर्ती कराया गया था। अंकित के परिजनों ने कार चालक के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत के बाद जब पुलिस घटना स्थल का मुआयना करने पहुंची तो कार लावारिस हालत में खड़ी मिली। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया। कार के मालिक का पता किया तो कार किसी महिला के नाम पर निकली। लेकिन, दुर्घटना के वक्त कार कोई व्यक्ति चला रहा था। पुलिस की पूछताछ में महिला व्यक्ति को खुद का पति बता रही थी। लेकिन दोनों के धर्म अलग होने से पुलिस को शक हुआ। काफी पूछताछ के बाद महिला ने दोस्त बताकर आरोपी कार चालक को थाने में पेश किया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suspicious Death: रात में आइसक्रीम खाई, सुबह मिली लाश

एक महीने बाद दूसरे अस्पताल मेें मौत

जांच अधिकारी ने बताया दुर्घटना के बाद अंकित को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था। अचानक चार—पांच दिन बाद हालत बिगड़ने पर परिजनों ने उसे एलबीएस अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान मंगलवार शाम लगभग डेढ़ बजे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!