Bhopal Suicide Case: चार बेटियों की मां ने एसिड पीकर की आत्महत्या

Share

Bhopal Suicide Case: महिला समेत चार व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

Bhopal Suspicious Death
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Suicide Case) एसिड पीने से एक महिला की मौत दर्दनाक मौत हो गई। जिस महिला ने यह कदम उठाया उसकी चार बेटियां हैं। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की है। पुलिस मामले को खुदकुशी तो मान रही है। लेकिन, ठोस वजह (Bhopal Suspensions Death Case) का वह अब तक पता नहीं लगा सकी है। हालांकि प्राथमिक जांच में यह सामने आया है कि उसका आखिरी वक्त में पति से विवाद हुआ था। इधर, तीन अन्य व्यक्तियों की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Madhya Pradesh Suspension Death Case) हो गई। सभी मामलों में मर्ग कायम कर पुलिस ने जांच शुरु कर दी है।

मजदूरी करता है पति

एसिड पीकर आत्महत्या करने वाली घटना अयोध्या नगर थाना क्षेत्र की है। यहां अरहेड़ी में रहने वाली नारायणी यादव पति मोहन उम्र 30 साल की मौत हो गई। पुलिस को घटना की सूचना आभा अस्पताल से 7 जुलाई की दोपहर तीन बजे मिली थी। नारायणी का पति मोहन मजदूरी का काम करता हैं। दोनों की शादी 11 साल पहले हुई थी। दोनों की चार बेटियां भी हैं। मोहन तीन भाईयों के साथ संयुक्त परिवार में रहता हैं। नारायणी ने 21 जून को एसिड पिया था।

बयान देने की नहीं थी स्थिति

नारायणी और मोहन के बीच विवाद की जानकारी पुलिस को मिली है। इसी कारण उसने एसिड पी लिया था। घटना के बाद से उसका करोद स्थित आभा अस्पताल में इलाज चलता रहा। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया हैं। पुलिस का कहना है कि मौत की ठोस वजह बेटियों और पिता के बयान से सामने आएगी। दरअसल, नारायणी एसिड पीने की वजह से बोलने की स्थिति में नहीं थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cyber Crime: फुटवियर कारोबारी से सोफा बेचने के नाम पर धोखाधड़ी

स्कूल कर्मचारी ने की आत्महत्या

इधर, टीटी नगर थाना पुलिस ने बताया कि राजेश बोरसे पिता बाबू बोरसे उम्र 46 साल निवासी बाणगंगा की मौत हो गई है। राजेश बोरसे राजीव गांधी स्कूल में प्रायवेट नौकरी करता था। परिवार ने 7 जुलाई की दोपहर करीब 3 बजे उसको फंदे पर लटका हुआ पाया था। उसे फंदे से उतारकर परिजन जेपी अस्पताल ले गए थे। जहां डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि घटना स्थल से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। परिवार के बयान से मौत की वजह साफ होगी।

मजदूर ने लगाई फांसी

पिपलानी थाना पुलिस ने बताया कि अजय धमघेरिया पिता दशरथ उम्र 22 साल निवासी 40 क्वार्टर झुग्गी बस्ती निवासी ने फांसी लगा ली। पिता मजदूरी का काम करते हैं। उसका शव 7 जुलाई की शाम करीब 7 बजे झुग्गी के म्याल से लटका मिला था। पुलिस का कहना है कि घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ हैंं। इधर मिसरोद थाना पुलिस ने बताया कि राजेश मेहतर पिता प्रकाश उम्र 42 साल निवासी इंद्रा नगर मल्टी जाटखेड़ी की मौत हो गई। बेहोशी की हालत में 8 जुलाई रात करीब 1:30 बजे परिजन जेपी अस्पताल लेकर पहुंचे थे। मिसरोद थाना पुलिस के पास जेपी अस्पताल पहुंचाने के अलावा कोई अन्य जानकारी नहीं थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: पिटाई का वीडियो वायरल हुआ तो हुई एफआईआर
Don`t copy text!