Bhopal Suicide Case: प्रेमिका से रिश्तों के बीच बाधा बन रही थी पत्नी, आत्महत्या के लिए किया मजबूर

Share

Bhopal Suicide Case: अवैध संबंधों का विरोध करने पर होती थी मारपीट

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक फोटो

भोपाल। नाजायज संबंधों (Illegitimate Relationship) का शक एक महिला की मौत का कारण बन गया। घटना मध्यप्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Suicide Case) की है। यह तथ्य एक महिला की मौत की जांच (After Inquiry) के बाद सामने आया है। महिला अपने पति से परेशान थी। उसको लगता था कि उसके पति की किसी दूसरी महिला से संबंध है। इसी बात को लेकर घर में कलह होती थी। जिसमें आरोपी पति उसको मारता—पीटता था। इसी दुख में आकर महिला ने आत्महत्या (Suicide) कर ली थी। पुलिस ने पति के अलावा सास और जेठ को भी आरोपी बनाया है। पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया है सास और जेठ फरार हैं।

इस कारण से दर्ज हुआ मामला

हबीबगंज थाना पुलिस (Habibganj Police Station) ने बताया कि माधवी कलीदार (Madhvi Kalidar) पति संदीप उम्र 35 साल निवासी जनता क्वार्टर ने 31 जुलाई की दोपहर लगभग दो बजे फांसी पर झूल गई थी। पति संदीप (Sandeep) उसको फंदे से उतारकर नेशनल अस्पताल (National Hospital) ले गया था। इस घटना की जांच एसआई नरेन्द्र शुक्ला (SI Narendra Shukla) कर रहे थे। शुक्ला ने बताया कि मामला घरेलु कलह से जुड़ा था। जिसमें जांच के बाद धारा 306/34 आत्महत्या के लिए उकसाना और एक से अधिक आरोपी का मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मुकदमे में पति संदीप (Sandip), सास लीलाबाई (Leela Bai) और जेठ संजय (Sanjay) को आरोपी बनाया गया है।

यह भी पढ़ें: बलात्कार के आरोपी बिल्डर को एक हफ्ते के अंदर मिली जमानत, रसूखदारों के सामने असहाय नजर आता कानून

यह भी पढ़ें:   Raisen Crime: डोरी काटने के विवाद पर हमला

एक ही विभाग में करते थे काम

इस मामले में माधवी कलीदार की मां पूर्णिमा, बहन दीपाली और वैष्णवी के बयान दर्ज किए गए। माधवी का मायका औरा मॉल (mall) के नजदीक था। माधवी और संदीप की 14 साल पहले शादी हुई थी। दोनों के दो बच्चे भी है। संदीप त्रिलंगा (Trilanga) स्थित राजीव गांधी संस्थान (Rajeev Gandhi Institute)के फिजियो थैरेपी डिपार्टमेंट में नौकरी करता था। यहां पर माधवी भी नौकरी करती थी। माधवी को लगता था कि संदीप एक महिला से बातचीत करता था। इस बात को लेकर वह विरोध करती थी। इसको लेकर घटना वाले दिन विवाद के बाद मारपीट हुई थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!