Bhopal Suicide Case: नौकरी छूटी तो फंदे पर झूला

Share

कर्ज और आर्थिक तंगी से गुजर रहे दो व्यक्तियों ने उठाया आत्मघाती कदम

Bhopal Hanging Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। अनलॉक के बाद परिस्थितियां प्रशासनिक लिहाज से जरुर सामान्य हो गई है। लेकिन, लॉक डाउन का असर धीरे—धीरे सामने आने लगा है। घटनाएं मध्य प्रदेश (Bhopal Suicide Case) की राजधानी भोपाल की है। यह दोनों घटनाएं आत्महत्याओं से जुड़ी है। हालांकि पुलिस इसको आधिकारिक रुप से बेरोजगारी (Bhopal Suspension Death Case) की वजह नहीं मान रही है। उसका दावा है कि मामले की जांच के बाद तथ्य सामने आ सकेंगे। इधर, मनोचिकित्सकों का दावा है कि खुदकुशी कोई सार्थक पहल नहीं है। निराश होने की बजाय व्यक्ति को अपनी कोशिश जारी रखनी चाहिए।

 

पर्यावास भवन में तैनात हैं पिता

कोहेफिजा स्थित मनुवाभान टेकरी पर एक व्यक्ति की लाश फंदे (Bhopal Hanging Case) पर पुलिस को लटकी मिली। घटना 23 जून की रात पौने नौ बजे रामबदन वर्मा ने पुलिस को दी थी। जेब से पुलिस को आधार कार्ड और अन्य पहचान पत्र मिला। जिसके बाद शव की पहचान सिद्दार्थ सिंह (Siddharth Singh Death Case) पिता उमेश सिंह चौहान उम्र 28 साल के रुप में हुई। वह नौकरी की तलाश कर रहा था। जांच अधिकारी जेएस परमार (J S Parmar) ने बताया कि सुसाइड नोट नहीं मिलने से मौत के वास्तविक कारण अभी पता नहीं चले है। पिता उमेश सिंह चौहान पर्यावास भवन में विकास अधिकारी है।

 

कर्जदारों के तकाजे से परेशान

इधर, ईटखेड़ी थाना क्षेत्र स्थित बरखेड़ी हज्जाम निवासी गब्बर मीणा पिता करण सिंह उम्र 30 साल ने फांसी लगा ली। घटना 23 जून की सुबह साढ़े आठ बजे पता चली थी। थाना प्रभारी करण सिंह ने बताया कि गब्बर रेडियम का काम करता था। उसकी शादी पांच साल पहले हुई थी। पत्नी लालघाटी गई हुई थी। परिजनों ने बताया कि वह कुछ दिनों से अधिक शराब पीने लगा था। पूछताछ में पता चला है कि गब्बर ने कई लोगों से कर्जा ले रखा था। यह कर्जदार उससे पैसा मांगते थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Harassment Case: डॉक्टर को बच्चे के साथ कमरे में बंद कर देता था पति
खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!