Bhopal Fake Currency: नकली नोट के साथ इंजीनियरिंग का छात्र गिरफ्तार

Share

Bhopal Fake Currency: पड़ोसी राज्य से 25 हजार रुपए में खरीदे थे एक लाख रुपए के नकली नोट

Bhopal Fake Currency
भोपाल एसटीएफ में गिरफ्तार उमेश दुबे

भोपाल। नकली नोट (Bhopal Fake Currency) के साथ इंजीनियरिंग के एक छात्र को स्पेशल टास्क फोर्स (Bhopal Special Task Force) की टीम ने दबोचा है। यह कार्रवाई मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) में की गई है। छात्र मूलत: सागर (Sagar) का रहने वाला है। आरोपी के कब्जे से पुलिस को 76 हजार रुपए के नकली (Bhopal Nakli Note) नोट भी बरामद हुए हैं। बेटे की करतूत की खबर पिता को लगी तो वह भी सदमे में आ गए। पिता सागर में कपड़ा व्यापारी है।

कुछ अन्य लोगों की जानकारी मिली

एसपी एसटीएफ भोपाल राजेश सिंह भदौरिया (SP STF Rajesh Singh Bhadouriya) ने बताया कि मुखबिरों से सूचना मिली थी कि भोपाल में एक छात्र नकली नोट (Bhopal Fake Currency Racket) चला रहा है। उसके पास भारी मात्रा में रकम रखी हुई है। इस सूचना के बाद इंद्रपुरी इलाके से उमेश दुबे (Umesh Dubey) पिता जवाहर दुबे को हिरासत में लिया गया। वह बीई का छात्र है और यहां इंद्रपुरी स्थित किरण नगर में किराए से रहता है। आरोपी सागर जिले के मकरोनिया इलाके का रहने वाला है। पिता (Umesh Dubey) कपड़े के कारोबारी है। उमेश दुबे ने पूछताछ में बताया कि वह पड़ोसी राज्य से यह नकली नोट (Bhopal Fake Currency Chain) खरीदकर लाया था।

यह भी पढ़ें: बेटे को देनी थी परीक्षा लेकिन पिता ने उससे पहले अपनी दी परीक्षा, अफसरों से लेकर मंत्रियों की नींद उड़ी

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: पत्नी को लेने गए पति की साले ने की पिटाई

केवल 200 रुपए के थे नोट

उमेश दुबे (Umesh Dubey Fake Currency Case) ने बताया कि उसने 25 हजार रुपए में एक लाख रुपए के नकली नोट खरीदे थे। जिस व्यक्ति से यह रकम ली गई थी उनकी तलाश में एसटीएफ (Bhopal STF News) की टीम रवाना हो गई है। उमेश दुबे के कब्जे से केवल 200 रुपए के नकली नोट मिले हैं। बरामद नोट 76 हजार रुपए हैं। बाकी की वह 24 हजार रुपए बाजार में चला चुका है। एसपी ने दावा किया है कि नकली नोट के इस गिरोह के मामले में जल्द नया खुलासा भी किया जाएगा। फिलहाल टीम को कुछ बिन्दुओं पर संदिग्धों के संबंध में जानकारी जुटाना अभी बाकी है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!