Bhopal Road Mishap: सड़क दुर्घटना में मजदूर की मौत

Share

Bhopal Road Mishap: टक्कर मारने वाली बाइक का पुलिस को नहीं मिला सुराग

Bhopal Road Mishap
सांकेतिक चित्र

भोपाल। सड़क दुर्घटना (Bhopal Road Mishap) में एक मजदूर की मौत हो गई। उसको बाइक सवार ने टक्कर मारी थी। बाइक का पता लगाने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। इधर, संदिग्ध परिस्थितियों (Bhopal Suspicious Death) में एक व्यक्ति की मौत हो गई। जिसकी मौत हुई उसका शव घर में तीन से चार दिन तक पड़ा रहा। यह दोनों घटनाएं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए है।

मां—बाप के साथ रहता था

पिपलानी थाना पुलिस ने बताया अमजद खान पिता सुबेराती उम्र 35 साल की मौत हुई है। वह सतनामी नगर का रहने वाला था। अमजद खान (Amjed Khan) मजदूरी करता था। मामले की जांच कर रहे एएसआई औंकार ठाकुर (ASI Onkar Thakur) ने बताया गुरूवार को अमजद पैदल घर लौट रहा था। तभी अयोध्या बायपास पर होप अस्पताल (Hope Hospital) के सामने पीछे से एक तेज रफ्तार बाइक वाले ने उसको टक्कर मारी थी। उसे होप अस्पताल में ले जाया गया था। जहां से डॉक्टरों ने उसको नागपुर अस्पताल (Nagpur Hospital) रैफर कर दिया था। अस्पताल में खर्चा ज्यादा होने के कारण परिजन उसे हमीदिया ले गए। जहां शुक्रवार शाम सवा छह बजे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

दुर्गंध आने पर पड़ोसी ने दी खबर

अवधपुरी थाना पुलिस ने बताया सौम्या पार्क लैंड (Soumya Parkland) में रहने वाले दिलीप राठौर (Dilip Rathore) ने पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति की मौत की सूचना पुलिस को दी थी। मृतक की पहचान आरके सिंह (RK Singh) पिता मस्तान सिंह उम्र 50 साल के रूप में हुई है। आरके सिंह परिजनों से अलग किराए के मकान में रहते थे। वह शराब पीने का आदी था। उसके घर के बाहर न्यूज पेपर वाला अखबार डालकर जाता था। वह भी पुलिस को बाहर ही पड़े मिले थे। इसी कारण पड़ोसियों को शक हुआ था। घर का दरवाजा खुला था। जब अंदर जाकर देखा तो आरके सिंह टीवी के सामने फर्श में मृत हालत में पड़े थे। पुलिस ने बताया शव करीब तीन से चार दिन पुराना है। पीएम रिपोर्ट के बाद ही पुलिस अपनी जांच की दिशा तय करेगी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Dowry case: ससुराल वालों की प्रताड़ना से तंग युवती पहुंची थाने

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!