Bhopal Road Mishap: राहगीर को बाइक ने मारी टक्कर, मौत

Share

Bhopal Road Mishap: दो अन्य हादसों में हुई मौत के मामले में पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

Bhopal Road Mishap
सांकेतिक चित्र

भोपाल। राहगीर को पीछे से बाइक सवार ने टक्कर (Bhopal Road Accident) मार दी।तीन दिन चले इलाज के दौरान उसकी मौत (Bhopal Death Case) हो गई। इधर, दो अन्य हादसों में व्यक्यिों की मौत के मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सभी घटनाएं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Road Mishap) सड़क हादसे में जिस युवक की मौत हुई उसका शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।

घर लौटते समय हुआ था हादसा

बैॅरसिया थाना पुलिस ने बताया कि पंन्नालाल (Pannalal) पिता जगंनाथ सहरिया उम्र 40 साल निवासी ग्राम नहारिया का रहने वाला है। पन्नालाल खेती किसानी करता है। शुक्रवार रात पन्नालाल पैदल घर जा रहा था। जैसे ही नाहरिया भौरासा के पास विदिशा (Vidisha Road Accident Case) रोड़ पर पीछे पहुंचा तो तेज रफ्तार बाइक ने टक्कर मार (Berasia Road Accident) दी। पन्ना सड़क किनारे गिर गया था। परिजनों ने उसे हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां तीन दिन चले इलाज के बाद सोमवार—मंगलवार की दरमियानी रात डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर (Panna Lal Road Accident Death Case) दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। चालक की बाइक का नंबर पुलिस को मिल गया है। नंबर के आधार पर वह आरोपी का पता लगा रही है।

भाजपा कार्यकर्ता की मौत

बैरसिया थाना पुलिस ने बताया कि सुनील सिंह (Sunil Singh) पिता टीकम सिंह विश्वकर्मा उम्र 27 साल निवासी ग्राम बसई में रहता था। परिजनों ने बताया सुनील भरतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता था। वह 18 जुलाई को घर की छत पर बिजली का तार डाल रहा था। तार से गुजरकर केबल की वायर गई थी। केबल में करंट था जिसके झटके से सुनील झुलस गया था। परिजन उसे इलाज के लिए अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित (Bhopal Sunil Singh Death Case) कर दिया था। एक महीने की लंबी जांच के बाद पुलिस ने केबल वायर के मालिक महेंद्र सोनी के खिलाफ धारा 304ए लापरवाही से हुई मौत का मुकदमा दर्ज कर लिया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Minor Rape Case: रंगों से खेलने के बाद खेत में हुआ गलत काम

बाइक की टक्कर से हुआ था हादसा

वहीं कोलार थाना पुलिस ने बताया कि अंकित मीना (Ankit Meena) पिता अनोखी लाल मीना उम्र 30 साल निवासी ग्राम बैरागढ़ चीचली का रहने वाला था। अंकित मोटर साइकल से 2 जुलाई को घर आ रहा था। तभी एक बाइक वाले ने उसको टक्कर मार दी थी। परिजन उसे नर्मदा अस्पताल (Narmada Hospital Accident Case) लेकर पहुंचे थे। जहां इलाज के दौरान पांच जुलाई को डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। परिजनों के बयान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर टक्कर मारने वाली बाइक का पता पुलिस ने लगा लिया है। आरोपी की गिरफ्तारी होना अभी बाकी है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!