Bhopal News: आर्मी अफसर बनकर जालसाजी करने वाले दबोचे गए

Share

Bhopal News: वाहनों को सस्ते दाम पर बेचने का देते थे झांसा, राजस्थान से गिरफ्तार किए गए गिरोह के सदस्य, भोपाल की बागसेवनिया पुलिस की टीम लेकर आई

Bhopal News
फाइल फोटो — थाना बागसेवनिया, भोपाल

भोपाल। ऑन लाईन एप पर आर्मी अधिकारी बनकर दो पहिया वाहनो को बेचने का सौदा कर लोगो से अपने खातों में पैसा जमा कराने वाले गिरोह के दो सदस्यों को दबोचा गया है। आरोपियों को राजस्थान (Rajasthan News) के कोटा शहर से दबोचा गया है। यह कार्रवाई भोपाल (Bhopal News) शहर के बागसेवनिया थाना पुलिस ने की है। इस संबंध में थाने में मामला भी दर्ज था। जिसकी शुरूआती जांच सायबर क्राइम ने की थी।

इन अधिकारियों की रही भूमिका

पुलिस की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार 24 सितंबर, 2021 को प्रीती रजक के साथ यह फर्जीवाड़ा किया गया था। उसने स्कूटी खरीदने का सौदा QUIKRLITE APP के जरिए किया था। जालसाज ने आर्मी का रिटायर्ड अधिकारी बताया था। उसने साढ़े पंद्रह हजार रूपए स्कूटी की कीमत बताई थी। उसने कई टुकड़ों में प्रीति रजक (Priti Rajak) से फोन-पे जरिए करीब 31 हजार ट्रांसफर करा लिए थे। इसी जांच के दौरान जिन दो खातों से लेनदेन हुआ उसकी जानकारी जुटाई गई। जिसके आधार पर कोटा के इंडसइंड बैंक में आरोपियों का पता मिला। इस आधार पर कोटा (Kota) शहर के सुल्तानपुर निवासी दीपक कुमार बैरवा (Deepak Kumar Bairwa) और संजय मीना (Sanjay Meena) को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों ने बताया कि गिरोह का सरगना मोहम्मद आरिफ (Mohmmed Arif) है जो कि भरतपुर (Bharatpur) राजस्थान में रहता है। उसकी गिरफ्तारी अभी बाकी है। जांच और धरपकड़ में टीआई संजीव कुमार चौकसे, एएसआई सुधाकर शर्मा, अरुण मलिक, हवलदार सुरेन्द्र यादव और अशोक सिंह तोमर की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: पहली के बाद अब दूसरी पत्नी की भी हुई मौत

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!