MP Chitfund Case:कंपनी लाखों रुपए लेकर चंपत

Share

MP Chitfund Case: लोगों को छह साल में रकम दुगना करने का तीन ​संचालकों ने दिया था झांसा

MP Chitfund Case
बहरुपिए पर केन्द्रीत सांकेतिक चित्र

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) के आदेश के बाद मध्य प्रदेश में चिटफंड कंपनियों (MP Chitfund Case) के खिलाफ पुलिस विभाग ने मुहिम छेड़ रखी है। इसी मुहिम के तहत भोपाल (Bhopal Chitfund Case) के हनुमानगंज थाना पुलिस ने जालसाजी और गबन का मुकदमा (Bhopal Cheating Case) दर्ज किया है। आरोपी चिटफंड कंपनी के तीन संचालक है। इन संचालकों ने सैंकड़ों लोगों को निवेश करने पर छह साल में रकम दुगनी करने का झांसा दिया था। हालांकि जब मैच्योरिटी की बारी आई तो यह संचालक फरार हो गए। अब तक करीब 14 लाख रुपए की हेर—फेर का पता चल चुका है।

पहले एमपी नगर में थी कंपनी

हनुमानगंज थाना पुलिस ने बताया कि 7 अगस्त की शाम साढ़े छह बजे गुलाब सिंह मेवाड़ा (Gulab Singh Mevada) पिता रतन सिंह उम्र 42 साल ने मुकदमा दर्ज कराया। गुलाब सिंह मेवाड़ा खजूरी सड़क थाना क्षेत्र में रहता है। वह जीवी कॉलोनाइजर (GV Coloniser) कंपनी में एजेंट के साथ निवेशक भी था। कंपनी का दफ्तर बस स्टेंड पर चेतन्य मार्केट में था। यह कंपनी करीब 68 निवेशकों की रकम लेकर भाग गई। इस कंपनी के संचालक बलजीत सिंह (Baljeet Singh), दिलबाग सिंह (Dilbag Singh), हरजीत सिंह (Harjeet Singh) हैं। प्राथमिक जांच में पता चला है कि यह कंपनी पहले एमपी नगर में थी।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में भाजपा का दामन छोड़कर कांग्रेस के पाले में जाने वाले पूर्व विधायक के शोरुम का ताला चोरों ने तोड़ा

यह भी पढ़ें:   सोयाबीन की बर्बाद फसल लेकर विधानसभा पहुंचे विधायक कुणाल चौधरी

ऐसे उजागर हुआ मामला

गुलाब सिंह मेवाड़ा ने बताया कि उसके अलावा 68 लोगों ने उसके कहने पर निवेश किया था। ऐसे निवेशकों की संख्या सैंकड़ों है। निवेशकों को छह साल पूरे होने पर मैच्योरिटी का सर्टिफिकेट पेश करने पर रकम देनी थी। लेकिन, ऐसा करने के पहले तीनों आरोपी बलजीत सिंह, दिलबाग सिंह और हरजीत सिंह यह बोलकर पंजाब (Punjab News) निकल गए कि वहां कुछ काम है। कंपनी 2010 से भोपाल में कारोबार कर रही थी। मामले की जांच कर रहे एसआई संजीव दुबे (SI Sanjeev Dubey) ने बताया कि झांसे में आए लोगों की संख्या अभी बताई नहीं जा सकती।

यह भी पढ़ें: सुहागरात के सपने देखने वाले नौ दूल्हे अब दुल्हन की वजह से थाने और अदालत के चक्कर काटने के लिए मजबूर

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!