Bhopal Cyber Crime: आक्सीजन कंस्ट्रेक्टर बेचने के नाम पर फर्जीवाड़ा

Share

Bhopal Cyber Crime: गिरोह के दो अन्य सदस्यों को सायबर क्राइम ने दबोचा

Bhopal Cyber Cheating
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज सायबर क्राइम (Bhopal Cyber Crime) से संबंधित है। यहां जुलाई, 2021 में एक गिरोह का खुलासा हुआ था। यह गिरोह फर्जी तरीके से आक्सीजन कंस्ट्रेक्टर बेचने के नाम पर लोगों को ठग रहा था। इसी रैकेट के दो अन्य सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।

कोरोना काल की घटना

हबीबगंज निवासी अक्षय जैन (Akshay Jain) ट्रू विनकॉम प्रायवेट लिमिटेड कंपनी चलाते हैं। इसके अलावा वे सामाजिक कार्य भी करते हैं। कोरोना के वक्त जब आक्सीजन की कमी थी तब उन्होंने काफी सक्रियता दिखाई। अक्षय जैन ने गूगल पर आक्सीजन कंसट्रेटर खरीदने के लिए संपर्क किया था। आरोपी ने विपिन शर्मा (Vipin Sharma) नाम बताया था। उसने 10 आक्सीजन कंस्ट्रेटर भेजने के बदले में 18 लाख रुपए का बिल भेज दिया। जिसमें जीएसटी, पैन समेत अन्य नंबर थे। यह देखकर उन्होंने चार किस्त में रकम बताए गए बैंक खतों में जमा करा दी। लेकिन, उन्हें सामान मिला ही नहीं। इसी प्रकरण में कुछ आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

खाता उपलब्ध कराते थे

Bhopal Cyber Crime
राज्यस्तरीय सायबर क्राइम थाना जिला भोपाल— फाइल फोटो

आरोपी मुंबई की सुरभि इंटरप्राइजेस कंपनी  के कर्मचारी बनकर बातचीत कर रहे थे। आरोपी इसी तरह से भोपाल के फरीदाबाद (Faridabad) में इस तरह की ठगी कर चुके थे। इसी मामले में फरार उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) निवासी नितिश अग्रवाल (Nitish Agrawal) और दिल्ली के ज्वाला नगर निवासी अभिनव उर्फ विजय मलिक को गिरफ्तार किया गया। नितिश अबग्रवाल के खाते का इस्तेमाल पैसा लेने के लिए किया गया था। वह बीकॉम के अलावा एलएलबी कर चुका है। वहीं अभिनव उर्फ विजय मलिक ([email protected] Malik) छठवीं पास है। उसने भी अपना खाता मुहैया कराया था। इस मामले में अभी भी कई अन्य की तलाश जारी है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: कांस्टेबल समेत दो व्यक्तियों ने लगाई फांसी

यह भी पढ़ें: इस शातिर जालसाज ने मध्यप्रदेश के मंत्रियों के नाम से फर्जीवाड़ा करने के लिए प्रकाशित करा दिए थे विज्ञापन

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Crime
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!