MP News : 10 वीं के छात्र ने की आत्महत्या, फीस के लिए दवाब बना रहा था स्कूल प्रबंधन

Share

निजी स्कूलों के विरोध में शुक्रवार को ही महिलाओं ने रोका था सीएम का काफिला

Student Suicide Indore
सांकेतिक चित्र

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में 10 वीं कक्षा के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Student Suicide Indore) कर ली। उसका शव कमरे के पंखे से लटकता मिला। छात्र के परिजन ने स्कूल प्रबंधन पर फीस वसूली के लिए दवाब बनाने का आरोप लगाया है। परिजन का कहना है कि इसी दवाब के चलते छात्र ने आत्मघाती कदम उठा लिया। मृतक की पहचान 15 वर्षीय हरेंद्र सिंह गुर्जर (Harendra Singh Gurjar) के तौर पर हुई है।

रिश्तेदार के साथ रहता था

महालक्ष्मी नगर में रहने वाले हरेंद्र ने सोमवार रात फांसी लगाकर जान दे दी। लसूडिया थाने के सब इंस्पेक्टर धर्मेंद्र सारगिया ने न्यूज एजेंसी को बताया कि मामला आत्महत्या का ही है। लेकिन मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। हरेंद्र मुरैना जिले का रहने वाला था। वो अपने रिश्तेदार दिलीप सिंह गुर्जर के साथ इंदौर में रहकर पढ़ाई कर रहा था।

स्कूल प्रबंधन पर गंभीर आरोप

दिलीप सिंह का कहना है कि हरेंद्र एक प्रायवेट स्कूल में पढ़ता था। स्कूल प्रबंधन फीस वसूली के लिए उस पर दवाब बना रहा था। जिसके कारण हरेंद्र परेशान रहने लगा था। परिजन के आरोप पर सब इंस्पेक्टर का कहना है कि उनके बयान दर्ज कर लिए गए है। आत्महत्या के पीछे स्कूल प्रबंधन के दवाब के आरोपों की भी जांच की जाएगी।

पिछले शुक्रवार को ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर दौरे पर थे। इस दौरान कुछ महिलाओं ने उनका काफिला रोक लिया था। महिलाओं ने निजी स्कूलों पर लगाम लगाने की मांग की थी। निजी स्कूल लॉकडाउन के दौरान की भी फीस वसूलने पर आमादा है।

यह भी पढ़ें:   SIMMI Jail Brake कांड की राह पर फिर भोपाल सेंट्रल जेल

यह भी पढ़ेंः छत पर फहराया पाकिस्तान का झंडा, वीडियो वायरल

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!