देश के 13 वें राष्ट्रपति, भारत रत्न प्रणब मुखर्जी का निधन

Share

प्रधानमंत्री समेत तमाम हस्तियों ने जताया शोक

Pranab Mukherjee
प्रणब मुखर्जी, पूर्व राष्ट्रपति, फाइल फोटो

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का निधन हो गया है। 84 वर्षीय भारत रत्न प्रणब मुखर्जी ने सोमवार शाम आखिरी सांस ली। उनके निधन से राजनीतिक जगत में शौक की लहर हैं। उन्हें चाहने वालों ने विनम्र श्रृद्धांजलि अर्पित की है। सोमवार को उनका स्वास्थ्य और खराब हो गया था। क्योंकि फेफड़े में संक्रमण की वजह से उन्हें सेप्टिक शॉक लगा था। सेप्टिक शॉक एक ऐसी गंभीर स्थिति है, जिसमें रक्तचाप काम करना बंद कर देता है और शरीर के अंग पर्याप्त ऑक्सीजन प्राप्त करने में विफल हो जाते हैं ।

10 अगस्त को अस्पताल में कराया गया था भर्ती

सेना के अनुसंधान एवं रेफरल अस्पताल ने बताया कि 84 वर्षीय मुखर्जी का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने कहा कि वह गहरे कोमा में थे और वेंटिलेटर पर थें। उन्होंने कहा कि मुखर्जी का इलाज विशेषज्ञों की एक टीम कर रही थी। पूर्व राष्ट्रपति को 10 अगस्त को यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। बाद में उनके फेफड़ों में भी संक्रमण हो गया था। अस्पताल ने एक बयान में कहा, ‘‘ कल से श्री प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में गिरावट हुई थी। फेफड़े में संक्रमण की वजह से उन्हें सेप्टिक आघात आया है और अभी उनका इलाज विशेषज्ञों की एक टीम कर रही थी। मुखर्जी 2012 से 2017 के बीच 13वें राष्ट्रपति थे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का ने जताया दुख

‘पूर्व राष्ट्रपति, श्री प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुनकर हृदय को आघात पहुंचा। उनका देहावसान एक युग की समाप्ति है। श्री प्रणब मुखर्जी के परिवार, मित्र-जनों और सभी देशवासियों के प्रति मैं गहन शोक-संवेदना व्यक्त करता हूँ।’

यह भी पढ़ें:   आसाराम का बेटा नारायण साईं दुष्कर्म का दोषी करार, 30 को सुनाई जाएगी सजा

उन्होंने आगे लिखा, ‘भारत के प्रथम नागरिक के रूप में, उन्होंने लोगों के साथ जुड़ने और राष्ट्रपति भवन से लोगों की निकटता बढ़ाने के सजग प्रयास किए। उन्होंने राष्ट्रपति भवन के द्वार जनता के लिए खोल दिए। राष्ट्रपति के लिए ‘महामहिम’ शब्द का प्रचलन समाप्त करने का उनका निर्णय ऐतिहासिक है।’

प्रधानमंत्री ने जताया शोक

India grieves the passing away of Bharat Ratna Shri Pranab Mukherjee. He has left an indelible mark on the development trajectory of our nation. A scholar par excellence, a towering statesman, he was admired across the political spectrum and by all sections of society.

राहुल गांधी ने जताया दुख

With great sadness, the nation receives the news of the unfortunate demise of our former President Shri Pranab Mukherjee. I join the country in paying homage to him. My deepest condolences to the bereaved family and friends.

सीएम शिवराज ने जताया दुख

भारत के पूर्व राष्ट्रपति मा. श्री प्रणब मुखर्जी के निधन के समाचार को सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ। आज मां भारती ने अपने एक गुणी और राष्ट्र के लिए समर्पित पुत्र को खो दिया। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। ॐ शांति!

भूपेश बघेल ने जताया दुख

वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न प्रणब मुखर्जी जी के निधन का समाचार दुःखद है। उनका जाना हम सबके लिए राष्ट्रीय क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें। इस दुःख की घड़ी में हम सब उनके परिवारजनों के साथ हैं।

यह भी पढ़ेंः उद्घाटन से पहले ही बह गया भ्रष्टाचार का पुल, देखें वीडियो

यह भी पढ़ें:   Gang Rape : पति के सामने ही दलित युवती को दबंगों ने बनाया हवस का शिकार
खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!