न हमारी सीमा में कोई घुसा है और न ही किसी का कब्जा है- पीएम मोदी

Share

PM Modi ka Sambodhan : 10 बिंदुओं में पढ़िए पीएम मोदी की बड़ी बातें, देखिए वीडियो

PM Modi ka Sambodhan
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। लद्दाख की गलवान घाटी में हुई भारत-चीन सेना के बीच झड़प के बाद शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक हुई। पीएम मोदी के आव्हान पर इस बैठक में तमाम पार्टियों के नेता शामिल हुए थे। इस बैठक के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने देश को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि हमारी सीमाएं सुरक्षित है। पीएम मोदी ने सकारात्मक सुझाव देने के लिए सभी पार्टियों के नेताओं का धन्यवाद भी किया।

1- हमारी सीमा में न तो कोई घुसा है। न घुस आया था और न ही किसी पोस्ट पर किसी देश की सेना का कब्जा है।

2- लद्दाख में शहीद हुए जवानों को पूरा देश नमन करता है। जिन लोगों ने भारत माता की तरफ आंख उठाकर देखा, सैनिकों ने उन्हें सबक सिखाया।

3- निश्चित तौर पर चीन ने एलएसी पर जो किया उससे पूरा देश आहत और आक्रोशित है।

4- हमारी सेना देश की रक्षा में कोई कसर नहीं छोड़ रही। डिप्लोयमेंट हो, एक्शन हो या काउंटर एक्शन हो सेना रही है।

5- कोई भी हमारी एक इंच जमीन पर आंख उठाकर नहीं देख सकता।

6- भारत की सेना हर सेक्टर में एक साथ मूव करने में सक्षम है। हमने जहां एक तरफ सेना को अपने स्तर पर उचित कदम उठाने की छूट दी है।

7- दूसरी तरफ चीन को अपनी बात दो टूक समझा दी है कि भारत शांति और दोस्ती चाहता है। लेकिन अखंडता से कोई समझौता नहीं करेगा।

8- बीते पांच वर्षों में देश के अपनी सीमाओ को सुरक्षा करने के लिए बॉरड्र एरिया में विकास को प्राथमिकता दी है। फाईटर प्लेन, मिसाइल पर आदि पर ध्यान दिया है। नए इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से पेट्रोलिंग बढ़ने की वजह सतर्कता बढ़ी है।

यह भी पढ़ें:   Video : वसूली के लिए महिला की खंभे से बांधकर पीटा, 8 गिरफ्तार

9- इंफ्रास्ट्रचर की वजह से एलएसी  पर हो रही गतिविधियों का पता चल रहा है। आने जाने वालों से पूछताछ हो रही है। अब तक जिनकों कोई रोकता नहीं था अब हम उन्हें रोकते भी है और टोकते भी है।

10- हमारे जवानों के पास सामान पहुंच रहा है। देशवासियों का हित हम सभी की सर्वोच्च प्रथामिकता है। भारत ने कभी किसी बाहरी दवाब को नहीं सहा है। हमारी सेनाएं सीमाओ की रक्षा करने में सक्षम है। यथोचित कार्रवाई के लिए पूरी छूट दी है।

देखें वीडियो

Don`t copy text!