आरटीआई से चौका देने वाले आंकड़े उजागर, वैक्सीन की 44 लाख डोज हुई खराब

Share

Corona Vaccine Spoiled News: एमपी में 81 हजार से अधिक वैक्सीन के डोज हुए खराब

Corona Vaccine Spoiled News
सांकेतिक चित्र

दिल्ली। पूरे देश में कोरोना का संक्रमण स्वास्थ्य व्यवस्था के बिगड़े ढ़ाचे को उजागर कर रहा है। इस बीच आरटीआई से एक चौका देने वाला खुलासा कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में सामने आया है। आरटीआई में यह पता चला है कि पूरे देश में 44 लाख से अधिक वैक्सीन की डोज बर्बाद (Corona Vaccine Spoiled News) हुई। यह वैक्सीन जिन्हें लगनी थी वे सेंटर में पहुंचे ही नहीं। मतलब साफ है कि वैक्सीनेशन प्रोग्राम को गंभीरता से लिया ही नहीं गया। इसमें मध्य प्रदेश का भी नाम सामने आया है। यहां 81 हजार से अधिक डोज बर्बाद हुए।

क्यों हुए डोज बर्बाद

देश में रेमडेसियर इंजेक्शन की मारामारी के बीच आई वैक्सीन की यह बर्बादी वाली खबर आम व्यक्तियों को सोचने के लिए मजबूर करती है। आरटीआई में वैक्सीन बर्बाद होने की वजह भी बताई गई है। दरअसल, वैक्सीन को एक मानक तापमान में रखा जाता है। यदि उस दौरान वैक्सीन नहीं लगाई गई तो वह खराब हो जाती है। इसलिए यह आंकड़े फिर से सुधार के साथ कार्यक्रम को बनाने में कारगर साबित हो सकते हैं। आरटीआई में बताया गया है कि वैक्सीन की यह बर्बादी जनवरी से 11 अप्रैल के बीच हुई है।

जहां वैक्सीन हुई खराब

Corona Vaccine Spoiled News
सांकेतिक चित्र

आंध्र प्रदेश— 1,17,733, असम— 1,23, 818, बिहार— 3,37,769, छत्तीसगढ़— 1.45 लाख, दिल्ली — 1.35 लाख, गुजरात—3.56 लाख, हरियाणा— 2,46,462, जम्मू-कश्मीर— 90,619, झारखंड— 63,235, कर्नाटक— 2,14,842, लद्दाख— 3,957, मध्य प्रदेश— 81,535, महाराष्ट्र— 3,56725, मणिपुर— 11,184, मेघालय— 7,673, नागालैंड— 3,844, ओडिशा— 1,41,811, पुडुचेरी— 3,115, पंजाब— 1,56,423 राजस्थान— 6,10,551, सिक्किम— 4,314, तमिलनाडु— 5,04,724, तेलंगाना— 1,68,302, त्रिपुरा— 43,292, उत्तर प्रदेश: 4,99,115, उत्तराखंड— 51,956,

यह भी पढ़ें:   Sky threat : दुनिया के लिए आसमान से भी सिरदर्द बना चीन

सर्वाधिक यहां हुई बर्बादी

Corona Vaccine Spoiled News
सांकेतिक चित्र

देश में 10 अप्रैल तक 10 करोड़ 34 लाख टीके लग चुके हैं। इस दौरान 44 लाख 78 हजार टीके बर्बाद हो गए। तमिलनाडू में सबसे ज्यादा 12 फीसदी वैक्सीन बर्बाद हुई। इसके अलावा दूसरे नंबर में हरियाणा लगभग 10 तो पंजाब में 8 फीसदी संख्या रही। यह जानकारी टीवी9 हिन्दी न्यूज नेटवर्क ने उजागर की है। जिसके बाद यह समाचार तेजी से वायरल हुआ। वैक्सीन बर्बाद होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने भी चिंता जताई थी।

Don`t copy text!