एक और ‘निर्भया’ हारी जंग, दरिंदों ने जीभ काट दी थी

Share

4 दरिंदों ने किया था दुष्कर्म, हैवानियत की हद की पार, गर्दन भी तोड़ दी थी

Hathras Gang Rape
सांकेतिक फोटो

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में सामूहिक दुष्कर्म (Hathrash Gang Rape) का शिकार हुई युवती की मौत हो गई। लंबे इलाज के बाद पीड़िता ने दम तोड़ दिया। एक और निर्भया ने 15 दिन तक जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष किया। लेकिन वो ये जंग हार गई। 19 वर्षीय दलित युवती के साथ दरिंदों ने हैवानियत की हदें पार कर दी थी। दुष्कर्म के बाद उसकी जीभ काट दी थी, गर्दन तोड़ दी थी। गंभीर हालत में पीड़िता का इलाज पहले अलीगढ़ के अस्पताल में चला। लेकिन स्थिति में कोई सुधार न होने के चलते उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रैफर किया गया था।

14 सितंबर की घटना

घटना जिले के चंदपा थाना क्षेत्र की है। जहां चार दरिंदों संदीप, रामू, लवकुश और रवि ने 14 सितंबर को वारदात को अंजाम दिया था। 19 वर्षीय युवती को बंधक बनाकर हवस का शिकार बनाया था। दरिंदों ने पीड़िता के हाथपैर बांधकर बारी-बारी से बलात्कार किया था। जिसके बाद उसकी हत्या की कोशिश की। पीड़िता किसी को आपबीती न सुना सके, लिहाजा दरिंदों ने उसकी जीभ काट दी। हत्या की कोशिश में पीड़िता की गर्दन भी तोड़ दी गई थी।

इशारों-इशारों में बताई आपबीती

दरिंदों ने पीड़िता की जीभ काट दी थी। लिहाजा कई दिनों तक उसके बयान नहीं हो सके। पीड़िता को जेएन मेडिकल कॉलेज अलीगढ़ में भर्ती कराया गया था। इशारों-इशारों में उसके अपने साथ हुई दरिंदगी को उजागर किया था। जिसके आधार पर आरोपियों की पहचान की गई। फिर उन्हें गिरफ्तार किया गया। घटना 8 दिन बाद पुलिस पीड़िता के बयान दर्ज कर पाई थी।

यह भी पढ़ें:   UP Crime : यूपी में अब लड़के भी सुरक्षित नहीं, 4 युवकों ने नाबालिग से किया गैंगरेप

यह भी पढ़ेंः फिल्मी स्टाइल में रिवॉल्वर तानकर पूछताछ कर रहा था टीआई, चल गई गोली

Don`t copy text!