UP Crime: 12 बच्चे ससुराल वालों की डिमांड, विरोध करने पर पति ने दिया तलाक

Share

दूसरी शादी की तैयारी से पहले पत्नी पुलिस से मदद लेने पहुंची थाने

Uttar Pradesh Rape Crime
सां​केतिक चित्र

आगरा। भारत सरकार की योजना है सीमित परिवार। इसके लिए नारा भी है बच्चे दो ही अच्छे। लेकिन, उत्तर प्रदेश (#Uttar Pradesh Crime) के आगरा (#Agra Crime) जिले का एक मुस्लिम परिवार इसको वंश के खिलाफ मानता है। यह हम नहीं कह रहे। बल्कि उसी मुस्लिम (Tripal Talak) परिवार की पीड़ित महिला कह रही है। उसने यहां एक थाने में शिकायत की है। उसका कहना है कि उसके ससुराल वाले उससे 12 बच्चे चाहते थे। जिससे इनकार करने पर पति की दूसरी शादी कराई जा रही है। इतना ही नहीं पति ने उसको तलाक (Divorce Issue) भी दे दिया है। यह सुनने के बाद पुलिस सक्रिय हुई और ससुराल के परिवार को उठाकर थाने ले आई।

घटना आगरा जिले के फतेहपुर (#Fatehpur Sikari) सीकरी कस्बे की है। घटना (Fatehpur Crime) एक मुस्लिम परिवार से जुड़ी हुई है। महिला का आरोप है कि उसके पति ने तलाक दे दिया है। उसने शर्त रखी थी कि वह 12 बच्चे पैदा करे। इस बात से इंकार किया तो पति ने उसे घर से निकाल दिया। शादी छह साल पहले नगला बीच में रहने वाले युवक के साथ हुई थी। शादी के बाद दोनों के तीन बच्चे हुए थे। जिसमें से एक बच्चे की मौत हो चुकी है। उस बच्चे की मौत के बाद महिला ने पति से दो बच्चों की अच्छी परवरिश के लिए एक दिन कहा था। यह बात जब ससुराल वालों को पता चली तो वह उस पर दवाब डालने लगे थे। सास—ससुर का कहना था कि उनके 12 बच्चे है और वह उससे भी 12 बच्चों की उम्मीद रखते है। ससुराल वालों का पति ने विरोध किया तो पति उससे नाराज हो गया। पीड़िता ने इस बात की जानकारी मायके में भी दी थी।
मायके वालों ने समझाने का प्रयास किया तो महिला से मारपीट की जाने लगी। पीड़िता ने थाने में इस बात की रिपोर्ट की थी। पुलिस वालों ने दोनों का समझौता कराया था। दो दिन पहले पति ने उसे तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया। वह उसके मायके आकर रहने के लिए मजबूर हो गई। मायके आने के बाद ही पति ने दूसरी शादी करने का फैसला कर लिया। इसकी खबर उसको लगी तो वह पुलिस थाने पहुंच गई। पीड़िता की शिकायत पर जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें:   Double Murder : युवक ने पत्नी और बेटी को गोली मारकर उतारा मौत के घाट
Don`t copy text!