Rajasthan Murder: कांस्टेबल की साली और प्रेमी ने मिलकर कर दी हत्या, साली से पहले था अफेयर

Share

आरोपी गिरफ्तार होने के बाद कांस्टेबल का मिला कंकाल, 110 दिन बाद अंधे कत्ल का ऐसा हुआ खुलासा

 

Rajasthan Extra Marital Affairs
सांकेतिक चित्र

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan Murder) के सवाई माधोपुर (#Madhopur Murder) जिले में 110 दिन पहले हुई एक सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। कांस्टेबल की हत्या (Constable Brutal Murder) उसकी ही साली ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी। जिस साली ने यह हत्याकांड (#Rajasthan Brutal Murder) कराया उसके साथ कांस्टेबल के अवैध संबंध थे। इन्हीं संबंधों का जब राज उजागर हुआ था तो पत्नी (Madhopur Brutal Murder) ने तलाक से लेकर भरण—पोषण का केस ठोक दिया था। किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं यह मामला सुलझाने से लेकर उसके खुलासे तक बहुत सारे रोचक तथ्य सामने आए है। अभी पुलिस को कुछ अन्य जानकारियों की तलाश है।

राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले के बूंदी में तैनात कांस्टेबल अभिषेक शर्मा की लापता होने के मामले में पुलिस को भारी मशक्कत करना पड़ी। हालांकि वह उसको जिंदा दस्तायाब नहीं कर सकी। उसका कंकाल बौंली किले के नीचे धीरावत महल से बरामद किया गया है। इस मामले में पुलिस ने उसकी साली श्यामा जोशी व नावेद रंगरेज को गिरफ्तार किया है। इन दोनों ने ही इस मामले का खुलासा पुलिस पूछताछ में किया था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर कंकाल परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। कांस्टेबल की बाइक नजदीक कुएं से बरामद की गई है। बूंदी में तैनात कांस्टेबल अभिषेक शर्मा 28 अगस्त 2019 को लापता हो गया था।

आरोपी रिश्ते में मृतक की साली लगती है। मृतक का ससुराल जटवाड़ा गांव का है। मृतक की पत्नी आरोपी श्यामा की ममेरी बहन है। पत्नी ने बताया कि उसकी बहन सालभर पहले कुछ दिन के लिए बूंदी गई थी। इस कारण जीजा अभिषेक के साथ नजदीकियां बढ़ गई थी। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसका पता उसे चल गया था। जिसके चलते उसका और बहन का मनमुटाव हो गया था। पति और पत्नी के बीच झगड़े तक होने लगे थे। पति के ससुराल पक्ष में कई बार आरोपी के परिजनों को मामले की जानकारी भी दी गई थी। लेकिन दोनों उनकी हरकतों से बाज नहीं आए थे। पत्नी ने पति के खिलाफ केस दर्ज कराया तो वह मायके सवाई माधोपुर के जटवाड़ा गांव में रहने चली गई। आरोपी ने बताया कि उसके किसी दूसरे व्यक्ति से संबंध बन गए थे। वह जीजा अभिषेक से संबंध नहीं रखना चाहती थी। आरोपी ने कथित दोस्त नावेद के साथ मिलकर अभिषेक को रास्ते से हटाने के लिए उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि पत्नी की गवाही के बाद दोनों की फोन की लोकेशन व बार-बार ट्रेस्ट कर रही थी। जिसके बाद पुलिस का शक यकीन में बदला गया था। पुलिस बौंली निवासी साली व युवक नावेद रंगरेज को गिरफ्तार कर सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने अभिषेक की हत्या की बात कबूल ली।

यह भी पढ़ें:   Rajasthan Political Drama: प्रियंका और राहुल से सचिन पायलट की मुलाकात
Don`t copy text!