18 साल की छात्रा ने हॉस्टल के बाथरूम में दिया बच्चे को जन्म

Share

नवजात को बाल्टी छोड़ आई थी छात्रा

MP Children Death
सांकेतिक चित्र

धुले। Dhule News महाराष्ट्र के धुले (Dhule) जिले से चौकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 18 साल की छात्रा ने हॉस्टल के बाथरूम में बच्चे को जन्म दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक युवती ग्रेजुएशन की छात्रा है, वो साकरी कस्बे के सावित्रीबाई फुले आदिवासी गर्ल्स हॉस्टल (Savitri Bai Phule Adivasi Girls Hostel Sakri) में रहती है। जहां 29 फरवरी को उसने एक बच्चे को जन्म दिया। पुलिस ने मामले की जानकारी सोमवार को दी। पुलिस ने बताया कि बच्चे को जन्म देने के बाद छात्रा ने उसे एक बाल्टी में रख दिया था। जिसके बाद वो अपने कमरे में चली गई। उसने किसी को भी इस बात की जानकारी नहीं दी थी।

यह भी पढ़ेंः कर्ज में डूबे सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने पत्नी और बच्चों को जहर देकर कर ली आत्महत्या

बाल्टी में रखे बच्चे ने जब रोना शुरु किया तो उसकी आवाज वार्डन ने सुनी। वार्डन ने बाथरूम से बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। जब वो वहां पहुंची तो बाल्टी में उसे नवजात मिला। पूछताछ करने पर किसी भी छात्रा ने बच्चे को जन्म देने की बात स्वीकार नहीं की। पुलिस इंस्पेक्टर देवीदास दामने ने बताया कि संदेही छात्रा को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया। तब जाकर मामले की पुष्टि हुई कि वहीं उस बच्चे की मां है। जिसके बाद बच्चे और उसकी मां को धुले के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामले में पुलिस जांच कर रही है कि बच्चे का पिता कौन है। वहीं हॉस्टल प्रबंधन की भी गंभीर लापरवाही सामने आई है, हॉस्टल में गर्भवती छात्रा रह रही थी और किसी को भी इसकी जानकारी तक नहीं थी।

यह भी पढ़ें:   Nitesh Narayan Rane : महाराष्ट्र के कीचड़ फेंक विधायक को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा
Don`t copy text!