जानिए 15 साल की लड़की ने क्यों रची अपने Kidnap और Gang Rape की झूठी कहानी

Share

मामले में उलझे रहे पुलिस के तमाम आला अधिकारी, तह तक पहुंचे तो खुली लड़की की कलई

Uttar Pradesh Rape
सांकेतिक चित्र

थाणे। महाराष्ट्र के थाणे (Thane) में एक नाबालिग ने ऐसी कहानी रची कि पुलिस महकमा 15 दिन तक उलझा रहा। 15 साल की लड़की ने अपने अपहरण और गैंगरेप (Kidnap and Gang Rape) की झूठी रिपोर्ट दर्ज करा दी। जिसकी तह तक जाने में पुलिस को बड़ी मशक्कत करनी पड़ी। 14 नवंबर को जब ये मामला सामने आया तो सबके होश उड़ गए थे। कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे, लेकिन मामले के खुलासे ने अब सबकों चौका दिया है। लड़की ने झूठी कहानी रचने की वजह भी अनोखी ही बताई है।

मामला भिवंडी (Bhiwandi) शहर के शांति नगर थाना इलाके का है। जहां 14 नवंबर को एक नाबालिग थाने पहुंची थी। उसने बताया कि स्कूल जाते वक्त 4 लोगों ने उसका अपहरण कर लिया था। वो उसे थाणे जिले के असनगांव के जंगल ले गए और वहां बारी-बारी से उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। नाबालिग की सनसनीखेज कहानी ने पुलिस को भी उलझा दिया था। पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर अज्ञात आरोपियों की तलाश की जा रही थी। लेकिन नाबालिग के बयान पर भी पुलिस को शक था।

अधिकारी ने कहा कि मामला गंभीर लग रहा था, पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मामले में उलझ गए थे, अधिकारी ने कहा कि जांच के क्रम में, पुलिस को किशोर के बयान में कई खामियां मिली। जब उन्होंने कल्याण, आसनगांव और वासिंद रेलवे स्टेशनों से एकत्र किए गए सीसीटीवी फुटेज पर कुछ नहीं पाया, तो पुलिस ने नाबालिग के माता-पिता और अधिवक्ताओं से भी पूछताछ की।

यह भी पढ़ें:   नौकरानी के साथ सेक्स के दौरान मोमबत्ती से ऐसा घिनौना काम करता था अधेड़

कड़ी पूछताछ के दौरान लड़की टूट गई और उसने सच उगल दिया। उसने पुलिस को बताया कि माता-पिता से झगड़े के बाद वो घर छोड़कर भाग गई थी और वापस आने पर डांट से बचने के लिए उसने झूठी कहानी रच दी।

Don`t copy text!