Bhopal News: तीन साल के मासूम की गड्ढे में गिरकर डूबने से मौत

Share

Bhopal News: मासूम बालक समेत दो व्यक्तियों की हादसों की वजह से गई जान

Bhopal News
कोहेफिजा थाना, जिला भोपाल—फाइल फोटो

भोपाल। अलग-अलग दो हादसों में तीन साल के बालक समेत दो व्यक्तियों की मौत हो गई। यह घटनाएं भोपाल (Bhopal News) शहर के कोहेफिजा और कोलार इलाके में हुई है। बालक माता-पिता के साथ श्राद्ध के लिए बुआ के यहां आया हुआ था। पुलिस दोनों घटनाओं में हादसों की वजह पता लगा रही है।

ऐसे हुई थी घटना

कोहेफिजा थाना पुलिस के अनुसार 12 सितंबर की अपरान्ह सवा चार बजे हमीदिया अस्पताल (Hamidia Hospital) से डाॅक्टर मुकाति ने बालक के मौत की सूचना दी थी। शव की पहचान तीन वर्षीय बालक रेहांश चौरसिया पिता राजकुमार चौरसिया के रूप में हुई। वह पिता के साथ इंदौर में रहता है। घटना रमा काॅलोनी में हुई थी। यहां राजकुमार चौरसिया (Rajkumar Chaurasia) की बहन रहती है। बहन श्राद्ध कर रही थी। जिसमें शामिल होने भाई आया था। उसका तीन साल का बेटा रेहांश चौरसिया (Rehansh Chaurasia) घर के बाहर थोड़ी दूर गया था। यहां गड्ढा था जिसमें पहले से पानी भरा था। उसमें वह गिर गया जिसमें डूबकर मौत हो गई थी। कोहेफिजा पुलिस मर्ग 57/22 दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। इस मामले की जांच एएसआई राकेश शुक्ला (ASI Rakesh Shukla) कर रहे हैं। इसके अलावा दूसरा हादसा कोलार इलाके में स्थित नयापुरा इलाके में हुआ।

हादसों की वजह पता लगा रही पुलिस

कोलार रोड थाना पुलिस ने बताया कि टेलीविजन नेटवर्किंग का काम करने वाले दीपक मालवीय पिता भंवर लाल मालवीय उम्र 28 साल की मौत हो गई है। यह घटना 11 सितंबर को हुई थी। दीपक मालवीय (Deepak Malviya) यहां नयापुरा इलाके (Bhopal News) में खंभे पर चढ़कर नेटवर्किग का काम कर रहा था। उसी दौरान उसे जोरदार झटका लगा था। जिसके बाद वह गिर गया था। गिरने के कारण दीपक मालवीय को गंभीर चोट आई थी। उसको जेके अस्पताल (JK Hospital) ले जाया गया था। यहां इलाज के दौरान मौत हो गई। जिसकी सूचना डाॅक्टर मिश्रा ने दी थी। कोलार पुलिस मर्ग 64/22 दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। जांच एएसआई राजेन्द्र सिंह केन (ASI Rajendra Singh Ken) कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि दीपक मालवीय ऋषि नगर झुग्गी में रहता है। पुलिस हादसों और उसकी वजहों का पड़ताल कर रही है। शव पीएम के लिए भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: निजी अस्पताल की अटेंडर से बलात्कार

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!