Bhopal News: पूर्व सांसद का बेटा बताकर थाने में हंगामा मचाया

Share

Bhopal News: कलई खुली तो नए झमेले में फंस गया कारोबारी का बिगडैल बेटा, पुलिस से की थी हाथापाई

Bhopal News
एमपी नगर थाना— फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal News) एमपी नगर थाने से मिल रही है। यहां दो युवकों ने आधी रात पहले सड़क में गदर मचाया। एक निजी कंपनी का गार्ड रोकने पहुंचा तो उसको दोनों युवकों ने पीट दिया। फिर पुलिस पहुंची तो उन्हें भी नहीं बख्शा। दोनों को थाने ले जाया गया तो पूर्व सांसद का बेटा बताकर थाने में जीना मुहाल कर दिया। हालांकि सुबह होते—होते कलई खुली तो पूरी कहानी से पर्दा उठ गया।

यह मिली थी सूचना

एमपी नगर थाना पुलिस के अनुसार 19—20 सितंबर की दरमियानी रात लगभग ढ़ाई बजे 508/21 धारा 294/323/353/332/34 (गाली—गलौज, मारपीट, सरकारी काम में बाधा पहुंचाकर, सिपाही से मारपीट और एक से अधिक आरोपी) का केस दर्ज किया है। मारपीट की यह घटना एमपी नगर स्थित बैंक स्ट्रीट में हुई है। शिकायत सिपाही निर्मल सिंह राजपूत पिता प्रेम सिंह राजपूत उम्र 26 साल ने दर्ज कराई है। वह नेहरु नगर पुलिस लाइन में रहते है। इस मामले में आरोपी अमित नीखरा और सारस्वत गुप्ता है। निर्मल सिंह राजपूत (Nirmal Singh Rajput) एमपी नगर थाने की चार्ली ड्यूटी के दौरान गश्त पर थे। उनके साथ एक अन्य सिपाही सुरेश सोलंकी (Suresh Solanki) भी थे। तभी उनका आमना—सामना आरोपियों से हुआ। इससे पहले एमपी नगर में गोदरेज के दफ्तर के बाहर सिक्योरिटी गार्ड से मारपीट करने की सूचना मिली थी।

रसूख सुनकर पुलिस आगे—पीछे होती रही

Bhopal News
एमपी नगर थाना, जिला भोपाल — फाइल फोटो

उसी सूचना पर रवाना होकर वे दोनों निकले थे। अमित नीखरा और सारस्वत गुप्ता (Sarswat Gupta) गाड़ी में सवार थे। दो महिलाएं भी उनके साथ दिखाई दे रही थी। दोनों सिपाही आरोपियों को समझाने पहुंचे तो एक आरोपी ने गार्ड को तमाचा मार दिया। आरोपियों ने दोनों पुलिस कर्मियों को भी तमाचा धर दिया। दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दोनों आरोपी शहर के रसूखदार परिवार से ताल्लुकात रखते हैं। जिसके बाद पूरे प्रकरण को लेकर एमपी नगर थाने के अधिकारी आगे—पीछे होेते रहे। पूरे प्रकरण को सिपाही के कारण दर्ज होना बताकर जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ते रहे। हालांकि जब सच्चाई सामने आई तो अफसरों ने थोड़ी राहत की सांस ली।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Fake Cement News: ब्रांडेड बोरियों भरी जाती थी नकली सीमेंट

यह भी पढ़ें: यदि आपने दोस्त बनाने के लिए इस डेटिंग एप्प को डाउनलोड किया है तो उन चेहरों के बारे में जान लीजिए जो आपके लिए मुश्किलें खड़ी करेंगी

दो कहानियों पर पर्दा

Bhopal News
सांकेतिक चित्र, ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

अमित नीखरा (Amit Nikhra) को गिरफ्तार करके मेडिकल भेजा गया तो उसने पिता का नाम रामेश्वर नीखरा (Rameshwar Nikhra) बताया था। हालांकि सुबह होने तक पूरी स्थिति साफ हो गई। एकपी नगर थाना प्रभारी सुधीर अरजरिया (TI Sudhir Arjaria) का कहना है। कि उसके पिता की चूना भट्टी में मिठाई की दुकान है। जबकि कार सारस्वत गुप्ता की थी। कार में दो युवतियां थी। जिनको दोनों आरोपी रिश्तेदार बता रहे थे। पिता का गलत नाम बताने पर धारा 177 का इजाजा कर दिया गया है। इधर, यह चारों लोग एक क्लब से पार्टी करके बाहर निकले थे। इस क्लब का नाम पूरे एपिसोड से गायब हुआ। जबकि इस क्लब में अक्सर विवाद की स्थिति बनती है। वहीं रात एक बजे तक क्लब खुले होने की बात उजागर होती तो किरकिरी होती इसलिए पुलिस ने कहानी में पेंच लगा दिए।

यह भी पढ़िए: भोपाल के ‘विजय माल्या’ की कहानी, सिस्टम और सरकार उसके आगे नतमस्तक हैं, नहीं तो इतना सबकुछ होने पर भी वह नहीं बचता

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: नाबालिग बुरे इरादे से लड़की के कमरे में घुसा
Don`t copy text!