Bhopal Fraud Case: दो लाख की नकली गड्डी दिखाकर ऐंठे महिला से जेवर

Share

Bhopal Fraud Case: विकलांग बनकर आए जालसाज ने अपने साथी की मदद से लगाई चपत

MP Chitfund Case
बहरुपिए पर केन्द्रीत सांकेतिक चित्र

भोपाल। नकली नोटों की गड्डी दिखाकर जालसाज (Bhopal Fraud Case) ने महिला के जेवरात ऐंठ लिए। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की है। दोनों आरोपियों ने पहले महिला से रास्ता पूछने के बहाने बातचीत की शुरुआत की थी। जालसाज में एक व्यक्ति विकलांग था जबकि दूसरा व्यक्ति ने बैग टांग रखा था। बातों में फंसाकर जालसाजों ने महिला को दो लाख रुपए की गड्डी दिखाकर उसे झांसे (Bhopal Cheating Case) में ले लिया था। पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ जालसाजी का मामला दर्ज किया है।

गरीब थी झांसे में आ गई

हनुमानगंज थाना पुलिस ने बताया भागरथी अहिरवार पति हरचंद अहिरवार उम्र 45 साल निवासी ग्राम करथानी थाना ईटखेड़ी की रहने वाली है। भागरथी (Bhagrath Ahirwar) काजीकैम्प पुलिया के पास पत्ती बेचने का काम करती है। रोजाना सुबह पत्ती बेचकर दोपहर तब घर लौट जाती है। रविवार के दिन भी वह पत्ती बेचकर दोपहर साढ़े ग्यारह बजे मुर्गे वाली दुकान से चिकन खरीदकर घर लौट रही थी। उसने पुलिस को बताया कि नोटों की इतनी बड़ी गड्डी उसने कभी नहीं देखी थी। इसलिए वह जालसाजों के झांसे में आ गई।

इटारसी का पूछ रहे थे रास्ता

सांकेतिक फोटो

जांच अधिकारी एसआई उदयवीर सिंह भदौरिया (SI Udayveer Singh Bhadouriya) ने बताया पहले एक विकलांग व्यक्ति महिला के पास आया। उसने उसको अम्मा पुकारते हुए इटारसी (Itarasi) जाने के लिए रास्ता पूछा। लेकिन, वह बैरसिया के रास्ते जा रहा था। महिला ने इटारसी जाने का रास्ता बताते हुए उसे नादरा बस स्टेंड जाकर बस पकड़ने की सलाह दी। तभी दूसरा लड़का जिसने बैग लटका रखा था वह आया। उससे भी विकलांग व्यक्ति ने इटारसी का रास्ता पूछ लिया। उसने बताया कि पैसे नहीं है वह पैदल जाना चाहता है। तब बैग लेकर आए वहां आए लड़के ने महिला से मदद करने के नाम पर कुछ पैसे मांगें।

यह भी पढ़ें:   Bhopal crime : डीजीपी के आदेश राजधानी में हो रहे हवा

पुलिस की कहानी में यहां पेंच

बैग लेकर आए व्यक्ति ने कुछ महिला को तो कुछ अपनी तरफ से मदद करके विकलांग को किराया देने का प्रस्ताव रखा। महिला ने उसके पास से 250 रूपए निकालकर बैग वाले लड़के को दे दिए। बैग वाले लड़के ने 150 रूपए मिला दिए। दोनों की रकम विकलांग को दे दी गई। यह रकम रास्ते में भोजन के लिए और किराए के रुप में थी। आरोपी टॉप्स के अलावा मोबाइल भी ले गए थे। हालांकि मोबाइल को लेकर पुलिस कोई ठोस (Bhopal Nakli Note Dikhakar Thagi) जानकारी नहीं दे सकी। पुलिस ने बताया कि मोबाइल और टॉप्स के बदले में दो लाख रुपए की गड्डी दी गई थी।

नोट गिनने गली में भेजा

जांच अधिकारी ने बताया बैग वाले लड़के के पास नकली नोट (Bhopal Fake Currency Cheating) की गड्डी थी। जिसमें से आधी रकम महिला को उसने देने का झांसा दिया। नोटों की गड्ड़ी निकाली जो काले कपड़े में लिपटी थी। महिला ने कपड़ा फाड़कर भी देखा। गड्डी में सबसे पहले 50 रुपए का नोट (Bhopal Thagi Case) दिख रहा था। महिला दो लाख में से रकम निकालने के लिए गली में घुसी तो आरोपी चंपत हो गए। पुलिस ने धारा 420/34 (जालसाजी और एक से अधिक आरोपी) का मुकदमा दर्ज किया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!