Bhopal News: शोरुम में काम करने वाली ना​बालिग से ज्यादती 

Share

Bhopal News: मर्दानी को मोहताज चल रही राजधानी में फिर नए थाने का नाम सूची में जुड़ा, सोशल मीडिया फ्रेंड ने किया था बलात्कार उसकी एफआईआर के लिए मशक्कत करते वक्त सामने आई छुपी सच्चाई

Bhopal News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन—टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश का गृह विभाग प्रदेश के मुखिया डॉक्टर मोहन यादव के पास हैं। वे स्वयं राजधानी भोपाल में रहते भी है और निर्णय भी करते हैं। इसके बावजूद भोपाल  में महिला पुलिस अधिकारियों की भारी कमी हैं। शहर के एक जोन के नौ थानों में तो एक भी महिला अधिकारी नहीं हैं। यह हालात अन्य जोन में भी बने हुए हैं। ताजा मामला भोपाल (Bhopal News) शहर के रातीबड़ थाने में उजागर हुआ। यहां नाबालिग से बलात्कार की एक शिकायत पहुंची थी। इस कारण दूसरे थाने से महिला अधिकारी को बुलाकर मुकदमा दर्ज कराया गया। तब तक पीड़िता और उसका परिवार इंतजार करता रहा।

दोस्त के घर और होटल में ले जाकर की थी ज्यादती

रातीबड़ (Ratibarh) थाना पुलिस के अनुसार इस मामले का आरोपी 20 वर्षीय शुभम दुबे (Shubham Dubey) हैं। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पीड़िता की उम्र 17 साल है। वह नेहरु नगर (Nehru Nagar)  इलाके में रहती है। पीड़िता के पिता विधि क्षेत्र में काम करते हैं। जबकि आरोपी शुभम दुबे रातीबड़ थाना क्षेत्र के सूरज नगर (Suraj Nagar) में रहता है। पीड़िता न्यू मार्केट (New Market)  स्थित एक शोरुम में जॉब भी करती है। उसकी पहचान आरोपी से इंस्टाग्राम के जरिए हुई थी। दोनों के बीच पहले चैटिंग फिर कॉल पर बातचीत होने लगी। दोनों एक—दूसरे से मिलने भी लगे। इस दौरान आरोपी ने कहा कि वह उससे शादी करने के लिए तैयार है। यह बोलकर उसने कई बार पीड़िता के साथ शारीरिक संबंध बनाए। शारीरिक संबंध बनाने का यह सिलसिला फरवरी, 2024 से शुरु हुआ था और लगभग 24 जून तक चला। इस दौरान आरोपी उसे अपने दोस्त के घर भी ज्यादती के लिए ले गया। इसके अलावा ओयो होटल (OYO Hotel) और अपने घर में भी शारीरिक संबंध बनाए। पुलिस ने बयानों के आधार पर आरोपी के खिलाफ 242/24 धारा 376—2—एन/506/5/6 (कई बार ज्यादती, धमकाना और पॉक्सो एक्ट का प्रकरण) दर्ज कर लिया है। यह प्रकरण दर्ज करने के लिए रातीबड़ थाना पुलिस को अरेरा हिल्स थाने से एसआई सुरेखा आरमो (SI Surekha Armo) को बुलाना पड़ा। दरअसल, रातीबड़ थाने में लंबे समय से महिला जांच अधिकारी नहीं हैं। ऐसा नहीं है कि यह समस्या अफसर नहीं जानते। लेकिन, उसका अब तक कोई समाधान नहीं निकाला जा सका है। इससे पहले छोला मंदिर थाना क्षेत्र में भी दो बलात्कार और एक छेड़छाड़ का प्रकरण दर्ज करने के लिए निशातपुरा थाने से महिला अधिकारी को बुलाना पड़ा था। इसी तरह भोपाल शहर का जोन—2 में आने वाले सभी नौ थानों में कोई भी महिला अधिकारी नहीं हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Liquor Mafia: आबकारी मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में बन रही थी जहरीली शराब
Don`t copy text!