Bhopal News: भौंरी बकानिया भारत पेट्रोलियम हादसे मामले में एफआईआर 

Share

Bhopal News: डेढ़ साल पूर्व हुई थी घटना, आधा दर्जन से अधिक आग से झुलसे थे, जांच रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने दर्ज किया प्रकरण, पंप का नोजल लगाते वक्त लगी थी आग, हादसे में दो व्यक्तियों की हुई थी मौत

Bhopal News
सांकेतिक चित्र—साभार

भोपाल। भौंरी बकानिया में स्थित भारत पेट्रोलियम में हुए हादसे के मामले में पुलिस ने अपनी जांच पूरी कर ली है। लगभग डेढ़ महीने पहले यह वारदात हुई थी। जिसमें नागपुर से एक जांच दल ने आकर पूरे घटनाक्रम की जांच की थी। यह जांच रिपोर्ट अब भोपाल शहर के खजूरी सड़क थाना पुलिस को दी गई है। जिसके आधार पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज करने का निर्णय लिया। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हुई थी वह पेट्रोलियम पदार्थ से लगी आग के कारण करीब सात लोग झुलसे थे।

यह है वह दिल दहलाने वाली घटना जो बहुत भयावह हो सकती थी

खजूरी सड़क (Khajuri Sadak) थाना क्षेत्र में स्थित भौरी बकानिया (Bhauri Bakaniya) के नजदीक भारत पेट्रोलियम डिपो (Bharat Petroleum Depo) में आग लगी थी। यह घटना 21 अक्टूबर, 2022 को हई थी। इस हादसे में चार व्यक्तियों की मौत हुई थी। जिसमें सलमान खान (Salman Khan) पिता नसीम खान उम्र 30 साल की मौत हो गई थी। वह शाहजहांनाबाद स्थित पुतलीघर के नजदीक रहता था। उसे चिरायु अस्पताल (Chirayu Hospital) ले जाया गया था। सलमान खान की 24 अक्टूबर की दोपहर साढ़े तीन बजे मौत हुई थी। इसी तरह चिरायु अस्पताल में भर्ती कराए गए मोहम्मद शानू अली (Mohammed Shanu Ali) पिता लियाकत अली खान उम्र 35 साल की मौत हुई थी। वह भी शाहजहांनाबाद थाना क्षेत्र में रहता था। उसकी 24 अक्टूबर को ही शाम को चिरायु अस्पताल में मौत हुई थी। आग से झुलसे तीसरे विनोद नागर (Vinod Nagar) पिता छगनलाल नागर उम्र 37 साल की 28 अक्टूबर को इलाज के दौरान चिरायु अस्पताल में मौत हुई थी। वह करीब 40 फीसदी आग से झुलसा था। विनोद नागर खजूरी सड़क स्थित ग्राम कोलूखेड़ी में रहता था। भीषण अग्निकांड के चौथे झुलसे छोटेलाल पिता सोनिक लाल उम्र 28 साल की मौत 4 नवंबर, 2022 को हुई थी। उसका भी चिरायु अस्पताल में इलाज चल रहा था। वह होशंगाबाद जिले के मटकुली थाना क्षेत्र स्थित मेहगांव का रहने वाला था।

मौत के बाद यह कार्रवाई की गई

Bhopal News
सांकेतिक फोटो

विनोद मालवीय(Vinod Malviya) , सलमान खान, शानू अली और छोटेलाल की मौत हुई थी। खजूरी सड़क पुलिस मर्ग 45—46—47—50/22 दर्ज करके मामले (Bhopal News) की जांच कर रही थी। जांच के बाद पुलिस ने 6 जुलाई को प्रकरण 224/24 दर्ज कर लिया। बकानिया में स्थित भारत पेट्रोलियम डिपो में हुई घटना में सिराज खान, राजा मियां और अंतराम गुर्जर गंभीर रुप से झुलस गए थे। घायलों ने बताया कि हादसा उस वक्त हुआ जब टैंकर एमपी—09—जीई—4775 में पेट्रोल भरा जा रहा था तब यह घटना हुई थी। प्लांट से टैंकर में पेट्रोल रिफिलिंग करते वक्त पाइप पर आग लगी थी। पुलिस ने घटना को लेकर भरतजी, हफीजउल्ला, महेश वर्मा और संतोष गोयल के बयान दर्ज किए गए। इसके अलावा भारत पेट्रोलियम की तरफ से हादसे की तकनीकी जांच के लिए नागपुर से तकनीकी टीम बुलाकर उसकी पड़ताल की गई थी। जांच में पता चला कि प्लांट पर मौजूद तकनीकी स्टाफ ने टैंकर रिफिलिंग करते वक्त सुरक्षा मानकों को अनदेखा किया था। पुलिस को दस बिंदुओं पर यह रिपोर्ट भी दी गई है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: सिरफिरे ने पहले रास्ता रोका, फिर लगा दी पिटाई

इन टैंकर चालकों के बयान से स्थिति हो सकी साफ

जांच में पता चला कि टैंकर (Tanker) एमपी—13—एच—2139 पर चालक अंतराम गुर्जर (Antram Gurjar) प्लांट में प्रवेश कर चुका था। उसके साथ टैंकर में हेल्पर छोटेलाल भी था। घटना सुबह साढ़े पांच बजे हुई थी। दूसरा टैंकर एमपी—04—जीए—3390 था। जिसका चालक राजा मियां था। उसमें हेल्पर सिराज खान (Siraz Khan() ) थे। यह दोनों टैंकर गेट नंबर दो से प्रवेश किए थे। जिसमें आने—जाने का अंतर 45 मिनट का था। यह दोनों टैंकर बाहर नहीं निकले थे। तभी तीसरे टैंकर एमपी—09—जीई—4775 को एंट्री दे दी गई। इस टैंकर में शानू खान चालक था जब हेल्पर सलमान खान था। इसी टैंकर में रिफलिंग करने के लिए हेल्पर काम कर रहा था। सलमान खान जब ऐसा कर रहा था तब बॉन्डिंग वायर जो अर्थ देने के काम आता है वह फंस गया। वह चैंबर तीन से निकलकर बाहर आ गया। उसे ध्यान नहीं रहा वह तब तक टैंकर के दूसरे चैंबर में जाने लगा। इसके बाद किसी को जान बचाने का मौका ही नहीं मिला। प्लांट में महेश्वरी इंटरप्राइजेस (Maheshwari Enterprises) को टैंकर रिफलिंग कराने का ठेका मिला था। विनोद नागर (Vinod Nagar) उसी कंपनी के लिए काम करता था। उसकी भी हादसे में मौत हो गई है। जिस दिन घटना हुई उस दिन प्लांट में डिपो प्रभारी इकबाल सिंह, स्वास्थ्य सुरक्षा पर्यावरण अधिकारी अ​विनाश सिन्हा थे। पुलिस ने जांच के बाद इन सभी को आरोपी मानते हुए धारा 304—ए/34 (लापरवाही से काम कराते वक्त हुए हादसे के कारण मौत होना और एक से अधिक आरोपी का प्रकरण) दर्ज कर लिया गया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: पतंजलि स्टोर का चोरों ने तोड़ा ताला 
Don`t copy text!