TCI Impact News: जिस एफआईआर में लापरवाही, अब उसमें बलात्कार का मुकदमा

Share

TCI Impact News: नाबालिग ने पिया था फिनायल पर रिपोर्ट मां की तरफ से पुलिस ने की थी दर्ज

TCI Impact News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) नाबालिग के मामले में पुलिस की संवेदनशीलता से जुड़ा एक समाचार पिछले सप्ताह द क्राइम इंफो डॉट कॉम (thecrimeinfo.com) ने उजागर किया था। नाबालिग (Bhopal Minor Child Fight Case) ने फिनायल पिया था और जिसके कारण उसने ऐसा किया था उसको मामले में बचाया गया। जबकि पूरे घटना और विवाद (Bhopal Beating Case Minor Child) की मूल वजह वह था। इस खबर का अब असर हुआ है। पुलिस ने नाबालिग की शिकायत पर मुख्य आरोपी के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज किया (Bhopal Minor Girl Rape Case) है। आरोपी को पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

शादी के दूसरे दिन नाबालिग से बलात्कार

बैरागढ़ थाना पुलिस ने बताया कि शुक्रवार शाम 5:47 पर 15 वर्षीय नाबालिग ने आरोपी विक्की ठाकुर (Vikky Thakur) के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया है। पीड़िता बैरागढ़ इलाके में रहती है। वह कक्षा आठवीं की छात्रा है। उसके मोहल्ले में रहने वाले आरोपी विक्की (Vikky Thakur Rape Case) को वह पिछले दो साल से जानती है। विक्की उसे अकेले में मिलने बुलाता था। पीड़िता कोई ना कोई बहाना बनाकार उसे टालती थी। तभी विक्की ने उसे डराना—धमकाना शुरू कर दिया था। विक्की के डर से वह उससे मिलने जाती थी। शादी का झांसा देकर विक्की ने कई बार उसके साथ संबंध (Vikky Thakur Minor Girl Rape Case) बनाए थे। दो माह पहले विक्की की शादी किसी दूसरी लड़की से हो गई थी। शादी के दो दिन बाद 9 मई को विक्की ने नंदा नगर जंगल में पीड़िता को मिलने बुलाया था। आरोपी ने उस समय भी पीड़िता के साथ बलात्कार (Vikky Rape Case) किया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: डीपीएस स्कूल की महिला कर्मचारी से छेड़छाड़

10 दिन पहले हुआ था जानलेवा हमला

पीड़िता ने बताया कि 17 जुलाई शाम करीब 4 बजे वह घर में अकेली थी। तभी विक्की की मां मुन्नी बाई, बहन मंजु, भाई कुनाल, पत्नी सोनिया और भाभी प्रियांशी घर में घुस आए थे। विक्की घर के बाहर बाइक पर बैठा था। आते ही मुन्नी बाई ने पीड़िता को बाल पकढ़कर पलंग ने नीचे गिराया। सभी उसके साथ हाथ मुक्कों से मारपीट (Baragad Minor Girl Attack Case) कर रहे थे। मारपीट करने वाला परिवार का दावा था कि नाबालिग थाने की धमकी देकर उसको बुलाती है। मंजु ने कमरे में रखी फिनाईल की बोतल उठाकर पीड़िता के मुंह में उड़ेल (Bhopal Attempt To Murder) दिया। परिजन उसे राजदीप अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां उसका इलाज चल रहा था।

पुलिस की यह थी लापरवाही

बैरागढ़ थाना पुलिस ने बलात्कार के इस पूरे मामले को बदलकर मारपीट का बना दिया था। इस मामले में पुलिस ने 452/294/323/506/34 घर में घुसना, गाली—गलौज, मारपीट, धमकी और एक से अधिक आरोपियों का मुकदमा दर्ज किया था। इसके लिए पुलिस ने नाबालिग की बजाय मां पर पूरी कहानी बना दी थी। इस बात को द क्राइम इंफो ने प्रमुखता से उठाया था। थाना प्रभारी शिवपाल सिंह कुशवाह के सामने परिवार ने हंगामा भी किया था। पुलिस वालों की लापरवाही को देखते हुए मामला बाल कल्याण आयोग तक पहुंच गया था। जिसकी भनक लगने पर बैरागढ़ थाना पुलिस ने आरोपी विक्की के खिलाफ (धारा3762एन/367/506/3/4/5/6 एक से अधिक बार बलात्कार, धमकी, पॉक्सो एक्ट) का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

यह भी पढ़ें:   MP Economic Fraud Case: IPS School संचालक के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!