JNCH News: जवाहर लाल नेहरू कैंसर अस्पताल में हंगामा 

Share

JNCH News: दो दशक से मौजूद डायरेक्टर को गुपचुप तरीके से प्रबंधन ने निकालने का लिया फैसला, विरोध में उतरे कर्मचारी संगठन, कई गंभीर अनियमितताओं का लगाया आरोप

JNCH News
अस्पताल में प्रदर्शन करते हुए कर्मचारी। तस्वीरें वायरल वीडियो से ली गई है।

भोपाल। मध्यप्रदेश से मिल रहे अनुदान से संचालित जवाहर लाल नेहरू कैंसर अस्पताल में एक बार फिर बवाल हो गया। यह ताजा बवाल वहां दो दशक से तैनात डायरेक्टर डॉक्टर प्रदीप कोलेकर (Dr Pradeep Kolekar) को निकालने के बाद हुआ। डॉक्टरों, पैरा मेडिकल स्टाफ समेत अन्य कर्मचारियों का आरोप है कि अस्पताल (JNCH News) में सरकार की नीतियों की बजाय जोशी परिवार की नीतियां थोपी जा रही है। इन्हीं परिवारों की मां, बेटी, भतीजे और दामाद मिलकर अनुदान में से अपनी मोटी—मोटी तनख्वाह ले रहे हैं। जबकि मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं और अन्य रियायतों को रोका जाने का आरोप लगाया जा रहा है।

इस कारण जताया जा रहा विरोध

जवाहर लाल नेहरू कैंसर अस्पताल (Jawahar Lal Nehru Cancer Hospital) में विरोध कर रहे कर्मचारियों का कहना था कि सरकारी नियमों को बदलकर प्रबंधन अपनी नीतियां थोप रहा है। जिन्होंने विरोध किया उन्हें अस्पताल से बाहर किया जा रहा है। सातवें वेतनमान समेत कई सुविधाएं कर्मचारी की रोक दी गई है। अस्पताल मध्यप्रदेश सरकार के अनुदान से चलता है। जिसको भारी रकम और उपकरण सरकार ने मुहैया कराई है। इसके तहत 10 फीसदी आंतरिक और 40 फीसदी बाह्य रोगियों को मुफ्त इलाज देना होता है। लेकिन, अब अस्पताल में यह भी बंद कर दिया गया है। अस्पताल पहले स्वर्गीय मदन मोहन जोशी के नेतृत्व में चल रहा था। उनके निधन के बाद पत्नी आशा जोशी, बेटी दिव्या पाराशर और भतीजे ने प्रवेश पा लिया है। आरोप है कि यहां बड़े—बड़े पद में बैठा यह  परिवार अपने नियम थोप रहा है।

प्रबंधन यह बोलकर सामने नहीं आया

JNCH News
मीडिया को प्रबंधन के तानाशाही फैसलों की जानकारी देते हुए कर्मचारी। तस्वीरें वायरल वीडियो से ली गई है।

कर्मचारियों का आरोप था कि अस्पताल के मेडिकल स्टोर से भारी राजस्व जवाहर लाल नेहरू कैंसर अस्पताल (JNCH News) को मिलता था। अब इसे आउटसोर्स कर दिया गया है। जिसमें मुनाफा एक ही परिवार उठा रहा है। इन आरोपों पर कैंसर अस्पताल की सीईओ दिव्या पाराशर (CEO Divya Parashar) से पक्ष जानने का प्रयास किया गया था। रिसेप्शन में मौजूद दीपक राव (Deepak Rao) ने संवाददाता का नंबर लेकर कहा कि जल्द प्रबंधन की तरफ से पक्ष दिया जाएगा। हालांकि बातचीत के लिए दिव्या पाराशर समेत कई अन्य जिम्मेदार सामने नहीं आए।

यह भी पढ़ें:   Covid—19: देश का मीडिया “कोरोना खान” बनाने में तुला

खबर के लिए ऐसे जुड़े

JNCH News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!