Dhar Goat Robbery: चरवाहे को बांधकर उसकी दर्जनों बकरियां ले गए बदमाश

Share

Dhar Goat Robbery: दो दर्जन से अधिक आरोपी वारदात में थे शामिल, चरवाहों को बेहरमी से पीटा

Dhar Goar Robbery
सांकेतिक चित्र

धार। मवेशी को लूट (Dhar Goat Robbery) ले जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस वारदात में शामिल दो दर्जन से अधिक बदमाश थे। आरोपी 100 से अधिक बकरियां अपने साथ ले गए हैं। घटना मध्यप्रदेश (MP Crime News) के धार (Dhar Crime News) जिले के करमदिया गांव की है। चरवाहों ने बताया कि उनके साथ मारपीट की गई। इसके अलावा जंगल में ही खाई के पास वे ले गए। वहां उन्हें बंधक बनाकर उनकी बकरियां ले गए।

बारिश बनी सर्चिंग में बाधा

चरवाहों ने पुलिस चौकी जाकर बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। चरवाहों ने पुलिस को बताया कि बदमाश जामदा-भूतिया गांव के हैं। अमझेरा, सरदारपुर और रिंगनोद पुलिस ने जामदा-भूतिया इलाके तक सर्चिंग की। लेकिन, बदमाशों का कोई पता नहीं चल सका। पुलिस ने बताया कि इससे पहले भी बदमाश 40 बकरियां छुड़ा (Dhar Goat Roobery) ले गए थे। चौकी प्रभारी एनएस डंडोतिया (NS Dandotiya) ने बताया कि बदमाशों को पकड़ने की पूरी कोशिश की जा रही है। लेकिन, बरसात और कीचड़ की वजह से मुश्किल हो रही है। जल्द ही बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा।

पारस और सोहन की आपबीती

बकरियां चराने गए पारस और सोहन ने अपनी आपबीती सुनाते हुए कहा कि हम 5 लोग हमेशा की तरह पास के जंगल में बकरियां चरा रहे थे। इतने में 20 से 25 बदमाशों ने लोगों को घेर लिया। किसी के हाथ में बंदूक थी तो किसी के हाथ में तीर कमान तो किसी के हाथ में फलिया। सोहन ने बताया कि पहले तो हमारे साथ मारपीट की फिर जंगल में आगे लेकर गए। घाटी पार करते ही हम लोगों को बांधकर लगभग 100 बकरियां लेकर चले गए। सोहन ने बताया कि एक बकरी लगभग 6 हजार रुपए में वह बेचते हैं। चरवाहों ने लाखों रुपए के नुकसान का दावा किया है।

यह भी पढ़ें:   MP Police News: पुलिस विभाग का यह अफसर जिसका नाम सुनकर महिला स्टाफ कांप जाता था

यह भी पढ़ें: हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा काट रहे बंदी की मौत के बाद ऐसे मचा हड़कंप

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!