Bhopal Looteri Dulhan: कब्र पर लटके पैर फिर भी शादी का ख्वाब इंजीनियर को पड़ा महंगा

Share

सेना से रिटायर जवान ने पत्नी के साथ मिलकर लूटा, कोटा में पकड़ाने पर खुला जालसाजी का राज

Bhopal Looteri Dulhan
भोपाल क्राइम ब्रांच में गिरफ्तार आरोपी दंपत्ति

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) कब्र पर पैर लटके थे। यह जानते हुए भी 70 साल के इंजीनियर ने शादी कर ली। शादी के बाद उसको लगा कि जीवन में सहारा मिल गया। लेकिन, जब उसको पता चला कि वह ठगी (Bhopal Cheating Case) का शिकार हुआ है तब तक उसका सबकुछ लूट चुका है। मामला मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के कोलार थाना क्षेत्र का है। पीड़ित ने इस बात की शिकायत क्राइम ब्रांच से की थी। यह शिकायत तब की गई जब आरोपियों को राजस्थान के कोटा में पकड़ा गया। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस को शक है कि लुटेरी दुल्हन (Bhopal Looteri Dulhan Case) ने इस तरह से दूसरों को भी निशाना बनाया है।

जानकारी के अनुसार कोलार निवासी 70 वर्षीय रिटायर्ड इंजीनियर ने शादी का विज्ञापन दिया था। उनकी पत्नी का निधन हो चुका है। बेटा दूसरे प्रदेश में रहता है। घर में अकेलापन होने के चलते उन्होंने शादी का विज्ञापन दिया था। विज्ञापन पढ़कर एक व्यक्ति ने उनसे संपर्क किया। उसने अपना नाम शंकर दुबे (Shankar Dubey) बताया। दुबे ने कहा कि एक गरीब महिला है जिसका नाम रानी मिश्रा (Rani Mishra) है। वह अविवाहित है और वह शादी करना चाहती है। लेकिन, वह मां नहीं बन सकेगी। इसकी वजह बताते हुए उसने कहा कि बचपन में गाय की सींग लगने से वह जख्मी हो गई थी। उसके बाद डॉक्टरों ने कहा था कि वह कभी मां नहीं बन सकेगी। रिटायर्ड इंजीनियर रिश्ते के लिए तैयार हो गए। घर पर ही शादी कर ली गई। यह शादी 20 फरवरी को हुई थी। शंकर ने बताया था कि वह पन्ना (Panna) जिले का रहने वाला है।
यह भी पढ़ें: एक लड़की के लिए लड़के ने रची कहान, जिसमें वह खुद फंस गया
ऐसे दिया झांसा
शादी के बाद अगले दिन रानी नाम की महिला जो रिटायर्ड इंजीनियर की पत्नी बनी थी उसके पास फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि उसकी मां की तबीयत खराब है। उसने मां के पास जाने की अनुमति ली। इससे पहले रिटायर्ड इंजीनियर ने उसको अपनी पहली पत्नी के जेवर उसे दिए थे। इसके अलावा उसको नकदी साढ़े सात हजार रुपए दिए गए। गांव पहुंचने के बाद रानी ने रिटायर्ड इंजीनियर को फोन किया। उसने कहा कि उसकी मां की मौत हो चुकी है। वह ​तेरहवीं संस्कार करके घर आएगी। उसने तेरहवीं संस्कार के लिए 40 हजार रुपए भी मांगे।
यह भी पढ़ें: घर पर आई बारात तो दूल्हन हो गई रफूचक्कर

यह भी पढ़ें:   व्हाट्सएप पर लेता था हथियार की बुकिंग

ऐसे खुली कलई
रिटायर्ड इंजीनियर को यकीन हो गया था कि उसको जीवन यापन के लिए साथी मिल गया है। लेकिन, जब उसकी कलई खुली तो वह परेशान हो गया। दरअसल, कोटा से एक फोन उसके पास आया। उसने बताया कि रानी के मोबाइल कॉल में उसका नंबर आया है। वह कौन है और कैसे जानता है। जब रिटायर्ड इंजीनियर ने पूरी कहानी बताई तो पूरी सच्चाई सामने आ गई। इसके बाद वह सीधे क्राइम ब्रांच पहुंचा।

दूसरी पत्नी से परेशान
क्राइम ब्रांच ने इस मामले में रानी को दबोच लिया है। रानी का असली नाम सुनीता शुक्ला है। उसकी उम्र 42 साल है। उसको रिटायर्ड इंजीनियर से मिलवाने वाला पति शंकर दुबेथा। दोनों आरोपी सतना जिले के कुलगंवा के रहने वाले हैं। शंकर का असली नाम रामफल शुक्ला है। वह सेना से रिटायर हुआ है। उसकी दो पत्नी है। सुनीता उसकी दूसरी पत्नी है। वह उससे पीछा छुड़ाना चाहता था। इसलिए उसने यह साजिश रची थी। क्राइम ब्रांच ने बताया कि कोटा, भोपाल की घटना आरोपियों ने कबूल ली है। पुलिस को शक है कि आरोपियों ने कई अन्य वारदात भी की है। जिसके संबंध में भोपाल पुलिस पूछताछ कर रही है।
यह भी पढ़ें: स्पेशल दो अफसर जिनकी जानकारी मिलने पर क्राइम ब्रांच के पैरों तले जमीन खिसक गई

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!