Bhopal Loot Case: खराब सड़क का लुटेरे ने ऐसा उठा लिया फायदा

Share

Bhopal Loot Case:  सीआईएसएफ जवान की पत्नी ने थाने पहुंचकर दर्ज कराई एफआईआर

Bhopal Loot Case
File Photo

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Loot Case) के सड़कों में इस वक्त बुरे हालात हैं। रखरखाव न होने के कारण कई सड़कें बदहाल हो गई है। जगह—जगह सड़कें खुदी हुई हैं। इसका असर वाहनों की रफ्तार में भी पढ़ने लगा है। इसी कमी का फायदा उठाकर एक बदमाश वारदात (Bhopal Purse Snatch) कर गया। पीड़ित परिवार सिर्फ मदद के लिए लोगों को पुकारता ही रह गया। पीड़िता महिला है जो सीआईएसएफ जवान की पत्नी (CISF Constable Wife Case) है। शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

मायके में आई थी बेटी

गोविंदपुरा थाना पुलिस ने बताया कि अंजली तिवारी पति प्रमोद तिवारी उम्र 39 साल ने सोमवार रात ग्यारह बजे लूट का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने लुटेरे के खिलाफ धारा 392 (लूट) का मुकदमा दर्ज किया है। अंजली तिवारी (Anjali Tiwari) का ससुराल स्टील प्लांट सीआईएसएफ अक्कन गरम बेईजार विशाखापट्टनम में हैं। कुछ दिनों पहले वह उसके मायके भरत नगर पिपलानी थाना क्षेत्र में आई थी। सोमवार शाम लगभग छह बजे अंजली मां के साथ पुराना मार्केट सब्जी लेने मोपेड से गई थी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली पुलिस का यह एसीपी जिसकी भोपाल पुलिस को तलाश है, जानिए क्यों

अंधेरे में हुई वारदात

अंजली ने बताया रात आठ बजे वह आईटीआई रोड़ भेल गेट के सामने से जा रही थी। सड़कों पर गड्ढे ज्यादा होने के कारण मोपेड धीरे चला रही थी। तभी उसके कंधे पर लटका पर्स लुटेरे ने झपट लिया। झटका लगने पर मोपेड उसकी लहरा गई। जब तक वह कुछ समझ पाती। तब तक लुटेरा फरार हो चुका था। अंजली ने घर वालों को घटना की जानकारी दी थी। आसपास लगे सीसीटीवी फुटैज पुलिस खंगाल रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Mobile Snatch: दिन भर घटना को छुपाकर, लूटेरों को तलाशती रही पुलिस

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!