Bhopal Corona News: थाने के सामने शव रखकर चक्काजाम

Share

Bhopal Corona News: सीएम दिनभर मशक्कत करके कोरोना के लिए लोगों को जागरुक कर रहे, सरकारी अस्पताल में मरीजों की नहीं ली जा रही सुध

Bhopal Corona News
थाने के सामने शव रखकर प्रदर्शन करते पुष्पराज के परिजन और साथ में मौजूद है विधायक पीसी शर्मा और कांग्रेसी नेता

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) पिछले तीन दिनों से कोरोना महामारी को लेकर जागरुकता अभियान चला रहे हैं। उनके इस सफल अभियान पर सरकारी अस्पतालों के चिकित्सक पानी फेर रहे हैं। यह आरोप होमगार्ड जवान के परिजनों ने लगाए हैं। होमगार्ड जवान ने कोरोना (Bhopal Corona News) वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई थी। जिसके बाद उसकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी। यह मौत जेपी अस्पताल में हुई थी। लाश अस्पताल के बाथरुम में ही मिली थी। परिवार ने उसकी गुमशुदगी हबीबगंज थाने में भी दर्ज कराई थी।

धरने में शामिल हुए विधायक

Bhopal Crime News
होमगार्ड जवान पुष्पराज सिंह जो कि सोमवार से लापता था जिसका शव मंगलवार को जेपी अस्पताल के बाथरुम में मिला

कोटरा निवासी होमगार्ड जवान पुष्पराज सिंह गौतम (Pushpraj Singh Gautam) की लाश जेपी अस्पताल के बाथरुम में मिली थी। मौत के बाद पीएम कराया गया। शव लेकर परिजन अंत्येष्टि के लिए भदभदा घाट जा रहे थे। तभी कमला नगर थाने के सामने उनका शव रख दिया गया। इसके बाद वहां हंगामा हो गया और विधायक पीसी शर्मा (Congress Leader PC Sharma) समेत कई कांग्रेसी नेता वहां पहुंच गए। परिजनों का आरोप था कि मुख्यमंत्री इतने संवेदनशील है तो होमगार्ड जवान के मामले में डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करते। परिजनों का आरोप था कि पुष्पराज सिंह की मौत डॉक्टरों की लापरवाही से हुई है। नारेबाजी के बीच समझाईश के बाद परिजन शव अंत्येष्टि के लिए लेकर रवाना हुए।

कड़ी कार्रवाई होगी

Bhopal Corona News
जेपी अस्पताल, भोपाल- फाइल फोटो

इस मामले में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Minister Vishwash Sarang) ने सरकार का बचाव किया। उन्होंने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि जांच के बाद कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले जेपी अस्पताल प्रबंधन ने मैट्रन समेत तीन लोगों को सस्पेंड कर दिया था। जिन्हें सस्पेंड किया गया उनमें मैट्रन सरोज मणि (Saroj Mani), दो नर्सिग स्टाफ है। वहीं सफाई कांट्रेक्टर को नोटिस थमाया गया है। जांच के दौरान पता चला है कि जेपी अस्पताल में 32 कैमरे लगे थे। इनमें से 8 कैमरे बंद थे। थाने में गुमुशदगी की रिपोर्ट पिता ने दर्ज कराई थी। जबकि लापता पुष्पराज सिंह अस्पताल में कोविड वार्ड में भर्ती था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: पत्नी बच्चों के साथ भागी तो पटरी पर लेट गया

यह भी पढ़ें: इस वर्दी पहने दिल्ली के एसीपी के झांसे में न आना, वरना पूरे परिवार को पड़ेगा पछताना 

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!