चुनाव सामग्री में शामिल हुआ मास्क, कांग्रेस ने किया लॉन्च

Share

पाला बदलने वाले विधायकों पर निशाना

Political Mask
कांग्रेस ने लॉन्च किया मास्क

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनावों (MP By Election) की तारीखें भले ही जारी नहीं हुई हो, लेकिन प्रचार जरूर शुरु हो गया है। कोरोना काल में भी पक्ष और विपक्ष ने अपना काम शुरु कर दिया है। खास बात ये है कि कोरोना महामारी से बचने के लिए लगाए जाने मास्क को भी चुनाव में शामिल कर लिया गया है। कांग्रेस ने चुनाव सामग्री के तौर पर अपने चुनाव चिन्ह के साथ मास्क लॉन्च (Political Mask) किया है। पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने मंगलवार को ग्वालियर में इसकी लॉन्चिंग की। मास्क पर कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए विधायकों पर निशाना साधा है।

बिकाऊ नहीं टिकाऊ चाहिए

मध्यप्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले चुनाव में कांग्रेस दल-बदल को मुख्य मुद्दा बनाने की तैयारी में है। लिहाजा मास्क पर भी कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए विधायकों पर तंज कसा गया है। मास्क पर छापा गया है कि बिकाऊ नहीं, टिकाऊ चाहिए, फिर से कमलनाथ सरकार चाहिए।

बढ़ सकती है संख्या

मास्क लॉन्च करते कांग्रेस नेता

सिंधिया समर्थक और कांग्रेस के बागियों को मिलाकर 22 विधायकों ने इस्तीफा दिया था। जिसके चलते कमलनाथ सरकार गिर गई थी। इससे पहले दो विधायकों के निधन से सीटें खाली हुई थी। लिहाजा 24 सीटों पर चुनाव होना था। लेकिन तीन और कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद सीटों की संख्या बढ़कर 27 हो गई है। कयास लगाए जा रहे है कि उपचुनाव की तारीख तय होने से पहले 2-4 और भी कांग्रेस विधायक इस्तीफा दे सकते है।

यह भी पढ़ें:   मध्यप्रदेश में भाजपा नेताओं को कोरोना ने जकड़ा

कब होगा तारीखों का ऐलान

विधानसभा या लोकसभा सीट खाली होने के बाद 6 महीने के अंदर उपचुनाव कराए जाने का नियम है। लेकिन कोरोना काल के चलते 6 महीने में चुनाव संभव नहीं दिख रहे है। चुनाव आयोग की तरफ से भी तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है। ऐसे में कांग्रेस ने भाजपा पर चुनाव टालने के आरोप लगाए है। कांग्रेस छोड़ भाजपा में जाने वाले विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में एक तरफ कांग्रेस का संकट बढ़ता जा रहा है। दूसरी तरफ सिंधिया की मुश्किल बढ़ने की बात भी सामने आ रही है। जानकारों का कहना है कि जितने ज्यादा कांग्रेस के विधायक इस्तीफा देंगे, भाजपा को फायदा होगा और इसका नुकसान ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे को भी होगा।

यह भी पढ़ेंः भोपाल में लाठी की दम पर लगाया गया लॉकडाउन

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!