Bhopal Cheating Case: कार लिबास संचालकों पर धोखाधड़ी की एफआईआर

Share

Bhopal Cheating Case: दुकान खाली करने को लेकर चल रहा था विवाद, जाली दस्तावेजों से लिया कनेक्शन

Bhopal Cheating Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। फोर व्हीलर को सजाने और संवारने वाली फर्म कार लिबास के ​संचालकों के खिलाफ जालसाजी (Bhopal Cheating Case) का मुकदमा दर्ज किया गया है। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Fraud Case) की है। आरोपियों से शिकायत करने वाले परिवार का दुकान खाली करने को लेकर विवाद चल रहा है। इसी विवाद के बीच आरोपियों ने काटी गए बिजली कनेक्शन के लिए जाली दस्तावेज बना लिए थे। घटना एक साल पहले की है जिसकी शिकायत अफसरों से की गई थी।

नाना ने दी थी दुकान

घटना पिपलानी थाना क्षेत्र स्थित सी—सेक्टर इंद्रपुरी इलाके की है। यहां एक दुकान आरोपी नावेद अहमद (Naved Ahmed) और तबरेज अहमद को किराए पर दी गई थी। यह किरायानामा बहुत साल पहले डॉक्टर वाएएस कपूर (Dr YS Kapoor) के बीच हुआ था। कपूर पिछले दिनों नहीं रहे। जिसके बाद आरोपियों को दुकान खाली करने का नोटिस दिया गया। दोनों आरोपी दुकान खाली करने के लिए राजी नहीं थे। नतीजतन, दोनों पक्षों के बीच आए दिन विवाद होने लगे। ताजा मामले की शिकायत डॉक्टर गौरव भाटनी (Doctor Gaurav Bhatni) पिता डॉक्टर गोपाल भाटनी उम्र 33 साल ने दर्ज कराई है। भाटनी का परिवार अरेरा कॉलोनी में रहता है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस आईपीएस अफसर के कारनामे, सेना के जवान का परिवार आ गया था झांसे में

शिकायतें बंद कराई

बताया जाता है कि तबरेज अहमद (Tabrej Ahmed) और नावेद अहमद के राजनीतिक रिश्ते भी है। इसलिए कई शिकायतों को बंद किया गया है। ऐसा पीड़ित ने पुलिस को दिए शिकायत में आरोप लगाया है। गौरव भाटनी नाक—कान गला रोग विशेषज्ञ हैं। उनकी अरेरा कॉलोनी में क्लीनिक भी है। पिता भी शहर के अच्छे डॉक्टर हैं। पीड़ित ने बताया कि उन्होंने सितंबर,2019 में दुकान की बिजली कटवा दी थी। इसे चालू करने के लिए आरोपियों ने फर्जी दस्तावेज बनाकर बिजली विभाग में लगाए थे। जिसको आधार बनाकर पुलिस ने धारा 420/467/468/471/34 (जालसाजी, दस्तावेजों की कूटरचना, झूठे सबूत बनाना और एक से अधिक आरोपी) का मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case: पति को नहीं था अपनी बेटी होने का यकीन, पत्नी ने दर्ज कराई दोस्त पर एफआईआर

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!