MP Cop Gossip:प्रत्याशियों के जानकारों की टीम बनाई गई

Share

MP Cop Gossip:थानेदार ने थाने के भीतर युवती का जन्मदिन मनाया, अब पति की शिकायतों के बाद बड़ी उनकी मुश्किलें

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस विभाग काफी बड़ा होता है। इसमें भीतर ही भीतर बहुत कुछ चल रहा होता है। कुछ बातें सार्वजनिक हो जाती है तो कुछ दबी रह जाती है। ऐसे ही विषयों का हमारा साप्ताहिक कॉलम एमपी कॉप गॉसिप (MP Cop Gossip) है। इसके जरिए हम उन बातों को सामने लाते हैं जो भीतर ही भीतर चल रही होती है। हमारा मकसद किसी व्यवस्था को छोटा—बड़ा दिखाना नहीं होता। हम किसी व्यक्ति या पद को लेकर भी कोई गलत सोच नहीं रखते। बस चर्चा के बहाने चुटकी लेते हुए जानकारी दी जाती है।

आखेट पर नहीं टिकी नजर

मत्स्य विभाग में बहुत ज्यादा घालमेल चल रहा होता है। यह बातें मैदानी पुलिस भी जानती है। लेकिन, वह चुप रहती है। ऐसा ही एक मामला पिछले दिनों सामने आया। दरअसल, पिछले सप्ताह मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लग गया है। इसके बावजूद कुछ चयनित ट्रांसपोर्ट के जरिए मछली का परिवहन किया जा रहा है। यह बात शहर के कई अफसरों को बकायदा बस नंबर के साथ बताई गई। लेकिन, किसी भी अफसर ने उस बस को हाथ देकर रोकने का साहस नहीं दिखाया। आखिरकार वह मछली की खेंप भोपाल से बाहर मंडला के लिए रवाना हो गई।

प्रत्याशियों पर रखी जा रही नजर

इस सप्ताह से चुनावी संग्राम शुरु हो गया है। घर—घर उसका असर दिखने वाला है। शहर में शोर और नारों के बीच कई नेता जनता के आस—पास होंगे। कुछ इलाके ऐसे संवेदनशील भी है जहां किसी विशेष पार्टी के कार्यकर्ता का वर्चस्व है। वहां टकराव की स्थिति न बने इसकी तैयारी पुलिस ने शुरु कर दी है। इसमें किसी तरह की कानून—व्यवस्था न बिगड़े उसके लिए भोपाल पुलिस ने विशेष इंतजाम करना शुरु कर दिए हैं। बकायदा ऐसे प्रत्याशी जो पुलिस के लिए सिरदर्द बन सकते हैं उनकी कार्यप्रणाली को जानने वाले मैदानी अफसर को काम में लगा दिया गया है। इसके अलावा कई तरह की अन्य जानकारियां जुटाकर शहर को सुरक्षित करने की रणनीति पर काम शुरु कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cop Bribe Case: वीडियो वायरल करने वाली महिला रिश्वत देने की बात से मुकरी

सरकारी वाहन में करते थे पत्नी के साथ गश्त

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल शहर के एक थाने में तैनात रहे थानेदार की इन दिनों अफसरों से शिकायत हुई हैं। थानेदार की बकायदा थाने में जन्मदिन पर केक काटते हुए तस्वीरें भी सबूत के तौर पर पेश की गई है। थानेदार पर आरोप है कि उनकी वजह से व्यक्ति का परिवार तबाह हो गया। पीड़ित पति ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि थानेदार उनकी पत्नी को सरकारी वाहन में गश्त के लिए बैठाकर भी रात को ले जाते थे। इतना ही नहीं लॉक डाउन के दौरान थानेदार ने महिला को होटल के कमरे में बुला लिया था। लेकिन, सामने महिला के पति को देखकर थानेदार को सांप सूंघ गया था। थानेदार के इस कृत्य की शिकायत पुलिस मुख्यालय में हुई है। जिसकी जांच के आदेश भोपाल पुलिस को मिल गए हैं।

रिश्वत लेते पकड़ाए फिर भी बहाल

केक काटने की तस्वीरें सामने आने की बात को बहुत गोपनीय (MP Cop Gossip) तरीके से जांच की जा रही है। जिन थानेदार पर आरोप लगा है उनके खिलाफ एक अन्य व्यक्ति मोबाइल पर अश्लील वीडियो पत्नी के साथ लेकर घूम रहे हैं। यह थानेदार पिछले साल एक मामले में आरोपी को छोड़ने के बदले में पैसा मांगते हुए ट्रेप भी हुए थे। जिसके बाद उनको सेवा से कुछ दिन के लिए पृथक कर दिया था। अब खबर है कि थानेदार ने अपनी पहुंच की मदद से वापस बहाली कर ली है। हैरानी वाली बात यह है कि एक तरफ जुए के अड्डे पर क्राइम ब्रांच की दबिश पर आरक्षक संस्पेंड किए जा रहे हैं। दूसरी तरफ रिश्वत लेते पकड़ाए थानेदार को गुपचुप तरीके से बहाल कर दिया गया है।
यूक्रेन में महिला हिंसा की वह दास्तां जो दुश्मनी की वजह से रूसी सैनिकों के निशाने पर आईं

यह भी पढ़ें:   Bhopal Mobile Shop Robbery: चोरों ने दिखाई चालाकी, शटर न खोल ले इसलिए कपड़ा बांध दिया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Cop Gossip
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!