Bhopal Chit fund News: नेपाली परिवारों को झांसा देकर दंपत्ति भागा

Share

Bhopal Chit fund News: रकम दोगुना करने का झांसा देकर 165 लोगों से जमा कराई थी रकम

Bhopal Chit Fund News
File Image

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से एक चिटफंड कंपनी (Bhopal Chit Fund News) का खुलासा हुआ है। इस कंपनी ने कई नेपाली परिवारों को टारगेट किया था। ऐसे परिवार की संख्या आधा दर्जन से अधिक है। इन्हीं परिवारों ने दूसरे अन्य 150 से अधिक शिकार लोगों की जानकारी जुटाई। आरोपी पति—पत्नी है जो दफ्तर में ताला लगाकर भाग गए है। इस घटना की शिकायत डेढ़ महीने पहले की गई थी।

जीटीबी में था दफ्तर

टीटी नगर थाना पुलिस के अनुसार हीरा गुरुंग ने आवेदन दिया था। वह अयोध्या नगर इलाके में रहती है। गुरुंग माध्यम क्रेडिट को आपरेटिव सोसायटी लिमिटेड जीटीबी काम्पलेक्स की सदस्य थी। वह जून, 2015 से एक हजार रुपये मासिक किस्त जमा कर रही थी। उसकी पॉलिसी अगस्त, 2021 में मैच्योर होना थी। उसको लगभग 87 हजार रुपए मिलने थे। उसकी दूसरी पॉलिसी पांच हजार रुपए महीने की थी। वह अगले साल मैच्योर होना थी। दोनों पॉलिसी से उसको लगभग पौने दो लाख रुपए मिलने थे। इस बात की पुष्टि उसके ही समाज के कुसुमकली, चल बहादुर, बेल बहादुर समेत अन्य व्यक्ति ने की। हीरा गुरुंग की ही तरह गीता पोखरेल ने भी पॉलिसी ली थी। दोनों नेपाली समाज के हैं।

यह भी पढ़ें: अस्पताल में तो ऑक्सीजन आज नहीं तो कल पहुंच जाएगा लेकिन यह जो तस्वीरें आ रही है उसे कोई भी इतनी आसानी से नहीं भूल सकता

ऐसे दिया गया धोखा

Bhopal Chit Fund News
File Image

सोसायटी का संचालन पूजा शर्मा और उसका पति नवीन शर्मा करते थे। दोनों आरोपी पति—पत्नी फरार है। पुलिस की टीम सोसायटी से संबंधित जानकारी जुटा रही है। पुलिस को जांच में पता चला है कि आरोपी नवीन शर्मा ने गीता पोखरेल से करीब 1 लाख 80 हजार रुपए जमा कराए थे। ऐसे ही करीब 165 लोगों की जानकारी पुलिस को मिल चुकी है। प्राथमिक जांच के बाद पुलिस ने धारा 420/406 जालसाजी और गबन का केस दर्ज किया है। पीड़ित परिवारों ने इसकी शिकायत एसपी साउथ से की थी। आरोपी नवीन शर्मा और उसकी पत्नी पूजा शर्मा नेहरु नगर स्थित प्रगति गार्डन में रहते थे। पति—पत्नी वहां से भी गायब है।

यह भी पढ़ें:   DRO Action : इलेक्शन की ट्रेनिंग से गायब 6 Officers सस्पेंड
Don`t copy text!