Bhopal Suicide Case: अमरूद के पेड़ पर रस्सी से लटका युवक

Share

Bhopal Suicide Case: पिता की डांट से नाराज बच्ची ने खाली इल्ली मार दवा

Bhopal Suicide Case
                          सांकेतिक चित्र

भोपाल। अमरूद के पेड़ पर लटककर एक युवक फंदे पर झूल (Bhopal Suicide Case) गया।इधर, पिता की डांट से नाराज नाबालिग ने इल्ली मार दवा खा ली। दोनों घटनाएं मध्यप्रदेशकी राजधानी भोपाल के देहात थाना क्षेत्र की है। इधर, डैम में डूबे व्यक्ति की तीन दिनपुरानी लाश बरामद हुई है। सभी मामलों में पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों कोसौंप दिए है। पुलिस तीनों मामलों में अभी कोई ठोस नतीजे पर नहीं पहुंची है। अफसरों का दावा है कि परिजन शोकाकुल है इसलिए विस्तृत बयान अभी नहीं हो सके हैं।

दो साल पहले हुई थी शादी

ईटखेड़ी थाने में तैनात और मामले के जांच अधिकारी एसआई बंसीलाल मरावी (SIBansilal Maravi) ने बताया वीरेंद्र प्रजापति पिता श्यामलाल 26 साल का था। परिजनों ने बताया वीरेंद्र (Virendra Prajapati) परिवार के साथ ग्राम रायपुर में रहता था। परिवारमें उसके माता—पिता छोटा भाई, पत्नी और डेढ़ साल की बच्ची भी है। उसकी शादी दो—ढ़ाई साल पहले हुई थी। घटना वाली रात उसने रात में खाना खाया था। वह रात को कब निकला परिवार को भनक नहीं लगी। गुरूवार सुबह गांव के कोटवार राधे प्रजापति ने उसे धान के खेत जो उसके घर के सामने है, उसमें लगे अमरूद के पेड़ पर रस्सी से फंदे पर लटका देखा था। पुलिस को कोई सुसाईड़ नोट नहीं मिला है। शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।

पिता ने डांट दिया था

नजीराबाद थाना पुलिस ने दूसरे मामले में बताया कि शिवानी मालवीय पिता जगन्नाथ उम्र 15 साल निवासी रूनाहा की रहने वाली थी। जांच अधिकारी एएसआई सीताराम लोहवंशी (ASISitaram Lohvanshi) ने बताया शिवानी (Shivani Malviya Suicide Case) कक्षा 10वीं की छात्रा थी। घर में उसके माता—पिता और दो बड़े भाई है। घटना वाली रात तीनों भाई—बहन में खाना क्या बनाए को लेकर कलह हो रही थी। तभी पिता जगन्नाथ आए और उन्होंने शिवानी को डांट दिया। पिता की डांट सुनकर सामने रखी इल्ली मार दवा उठाकर बच्ची ने पी ली। परिजन उसे सिविल अस्पताल बैरसिया ले गए थे। जहां से डॉक्टरों ने उसे भोपाल आधार अस्पताल रिफर कर दिया। आधार अस्पताल (Adhar Hospital) परिजन लेकर पहुंचे तो डॉक्टरों ने उसे देखते से ही मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: करंट से झुलसकर मासूम बच्ची समेत तीन व्यक्तियों की मौत

तीन दिन पुराना शव मिला

जांच अधिकारी ने बताया शिवानी को परिजन लौटाकर सिविल अस्पताल ले आए थे। जहां डॉक्टरों ने पीएम करने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। पिता ने बताया था बच्ची गुस्सेल स्वभाव की थी। इधर, नजीराबाद थाना पुलिस ने बताया बाल किशन पिता बंसीलाल उम्र 50 साल निवासी ग्राम सूनगा का रहने वाला था। वह ग्राम बडली में चौकीदारी करता था। परिजनों ने बताया वह तीन चार दिनों से घर नहीं आया था। उसकी दिमागी हालत भी खराब थी। गुरूवार राम भरोसे ने उसे स्टाप डैम से 100—150 कदम दूरी पर डूबे देखा था। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव निकाला तो शव सड़ी हालत में था। शव देखने से वह तीन से चार दिन पुराना बताया जा रहा है।

फुटपाथ पर रहता था

नजीराबाद थाना पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पीएम रिपोर्ट के बाद पुलिस आगे की जांच करेगी। उधर, ऐशबाग थाना पुलिस ने बताया ऐशबाग फाटक के पास फुटपाथ पर एक व्यक्ति मृत अवस्था में मिलने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस को उसकी पहचान जग्गू सोनी (Jaggu Soni) पिता गुलाबचंद उम्र 50 साल के रूप में हुई है। मृतक सिहोर का रहने वाला था। साथ ही अकेला मजदूरी करता था और शराब पीने का आदी था। शव पीएम के लिए रखा गया है। उसके मजदूर साथियों की मदद से परिजनों को सूचना दे दी गई है। परिजनों के आने पर पीएम किया जाएगा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!