MP Police Gossip: सुबह अपराधी शाम होने तक शरीफ

Share

MP Police Gossip: शहर के एक थाने में सुपरकॉप की चर्चित कहानी

MP Police Gossip
सांकेतिक चित्र

भोपाल। आपदा को अवसर बनाने का पुलिस को जब भी मौका मिलता है तो वह चूकती नहीं है। यह मामला मध्य प्रदेश (MP Police Gossip) की राजधानी भोपाल (Bhopal Police Gossip) से सामने आया है। यहां एक व्यक्ति का वाहन जब्त करके रखा गया। उसको शाम तक कानून और उसकी धारा के दुष्परिणाम बताकर उसको दहशत में लाया गया। नतीजा यह निकला कि उस व्यक्ति को एटीएम जाना पड़ा और उसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी। जिस व्यक्ति का वाहन छोड़ा गया उसकी शिकायत एक अधिवक्ता ने थाने में की थी।

दो घर की एक एफआईआर का खेल

कोलार में पिछले दिनों एक चोरी की एफआईआर दर्ज हुई। इस एफआईआर का एक फरियादी बनाया गया। जबकि चोरी दो जगह हुई थी। जिस व्यक्ति की एफआईआर हुई उसकी कुल संपत्ति 40 हजार रुपए बताई गई। जबकि चोरी गए माल में करीब 17 तौला सोना भी था। इसके अलावा दूसरे फरियादी जो उसके यहां भी वारदात हुई थी। उसने आपत्ति उठाई तो उसको थाने से चलता कर दिया गया। मामले को लेकर अब शिकायत करने की तैयारी की जा रही है।

घोटालेबाज पर मेहरबानी

भोपाल पुलिस की एक यूनिट में सिपाही को थाने रवाना किया गया था। लेकिन, सिपाही ने रवानगी की बजाय वहां पर वापसी करा ली। साथियों ने आपत्ति उठाई तो कहा अभी श्राद्धपक्ष है इसलिए आमद नहीं दी गई। यह सिपाही जिला पुलिस बल में हैं और वह नॉन कैडर वाली यूनिट पर तैनात है। आरोप है कि सिपाही डायरी मिलाने के लिए कमीशन लिया करता था।

यह भी पढ़ें:   डिफाल्टर था या दी थी सुपारी आज भी अनसुलझी कहानी

आपदा को बनाया अवसर

जबलपुर से एक व्यक्ति आया। उसकी बोलेरो वाहन कोलार पुलिस ने पकड़ लिया। उस वाहन से 2017 में दुर्घटना हुई थी। जिस कंपनी ने बीमा किया उसने तारीख बदल दी। वकील ने मुद्दा बनाकर कोलार थाने में शिकायत कर दी गई। यह वाक्या पहले मालिक के साथ हुआ था। लेकिन, फंस गया उस वाहन को खरीदने वाला खरीददार। पुलिस ने वाहन जब्त कर लिया। थानेदार बड़ा कानूनी भय दिखाते हुए वाहन ले आए। मामले में सेटलमेंट के लिए घूस मांगी गई। नहीं देने पर मुकदमा दर्ज करने की धमकी दी गई। बात थाना प्रभारी के पास भी पहुंची। पहले डेढ़ लाख रुपए मांगे गए। फिर तोड़ 60 हजार रुपए में हो गया। इस मामले में कई लोगों के फोन प्रभारी के भी पास पहुंचे। फोन आने पर दूसरे मुकदमे लादने की धमकी दी गई।

दो थाने के बुरे हाल

भोपाल शहर के दो थाने इन दिनों कोरोना की चपेट में है। यह थाने हनुमानगंज और पिपलानी थाना है। इन दोनों थानों के करीब दो दर्जन पुलिस अधिकारी और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव है। भय में पूरा स्टाफ भी है। आलम यह है कि दोनों थानों के प्रभारी भी इस बीमारी की चपेट में आ गए थे। इन दोनों थानों के हालत के किस्से सुनकर दूसरे थाने के प्रभारी स्टाफ को अलर्ट कर रहे हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!